VIDEO: रामदेव बोले- हमारी तरह देशे के कुंवारों को मिले ‘विशेष सम्मान’ और 2 से ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों को न हो वोटिंग का अधिकार

0

योग गुरु बाबा रामदेव एक अजीबोगरीब सुझाव देकर विवादों में फंस गए हैं। दरअसल, रामदेव चाहते हैं कि उनकी तरह देश के सभी कुंवारों को ‘विशेष सम्मान’ दिया जाए। इतना ही नहीं साथ ही उन्होंने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को सुझाव दिया है कि अगर कोई शादी करता है और वह दो से ज्यादा बच्चे पैदा करे तो उन्हें मतदान का अधिकार नहीं होना चाहिए।

File Photo: PTI

जी हां, उन्होंने कहा है कि इस देश में जो हमारी तरह शादी ना करे उनका विशेष रूप से सम्मान होना चाहिए। साथ ही बाबा ने कहा कि और यदि कोई विवाह करता भी है तो अगर वह दो से ज्यादा संतान न पैदा करे तो उसके मतदान का अधिकार नहीं मिले। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, रामदेव ने कहा- “इस देश में जो हमारी तरह से विवाह ना करे उनका विशेष सम्मान होना चाहिए, और विवाह करे तो 2 से ज्यादा संतान पैदा करे तो उसकी वोटिंग राइट नहीं होनी चाहिए”

रामदेव ने कहा कि पुरातन काल में जनसंख्या कम थी तो वेदों में तो 10-10 संतानें पैदा करने तक कहा गया है। अब जिसके सामर्थ्य हो, कर लेना। 1-2 उनमें से हमें दे देना। अब तो वैसे ही 125 करोड़ से ज्यादा देश की आबादी है।’ उन्होंने आगे कहा कि लेकिन अगर कोई प्रज्ञावान पुरुष है या स्त्री है, अगर वह विवेकशील और पूर्ण जागृत आत्मा हो तो वह एक ही हजारों, लाखों, करोड़ों पर भारी पड़ता है, यह भारती ज्ञान परंपरा है।

रामदेव के इस बयान के बाद तमाम राजनीतिक पार्टियों और लोगों में भी चर्चा शुरू हो गई है। आपको बता दें कि ज्ञानकुंभ के पहले दिन शनिवार को भी बाबा रामदेव ने राम मंदिर को लेकर बड़ी बात कही थी। रामदेव ने कहा कि राम मंदिर लोगों की आस्था का मामला है। जल्दी ही अयोध्या में राम मंदिर बनना चाहिए। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के संबंध में यदि कोर्ट से निर्णय आने में देरी होती है तो संसद में इसका बिल लाया जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here