केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के सांसद भाई रामचंद्र पासवान का निधन, दिल्‍ली के अस्पताल में चल रहा था इलाज

0

बिहार के समस्तीपुर लोकसभा सीट से सांसद और लोक जनशक्ति पार्टी के वरिष्ठ नेता रामचंद्र पासवान का रविवार (21 जुलाई) को दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, रामचंद्र पासवान का दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल (आरएमएल) अस्पताल में काफी दिनों से इलाज चल रहा था, जहां रविवार को उन्होंने दुनिया को अलविदा कर दिया। बता दें कि वह केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के भाई थे।

रामचंद्र पासवान
फाइल फोटो।

रामचंद्र पासवान ने नई दिल्ली स्थित राम मनोहर लोहिया अस्पताल में रविवार दोपहर करीब डेढ़ बजे अंतिम सांस ली। 12 जुलाई को रामचंद्र पासवान को दिल का दौरा पड़ने के बाद राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने उनके स्वास्थ्य को देखते हुए वेंटीलेटर पर रखा था। पासवान के निधन से राजनीतिक गलियारे में शोक की लहर है।

एलजेपी के नेताओं के अनुसार, दिल का दौरा पड़ने के बाद रामचंद्र पासवान को 12 जुलाई को दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई थी। रामचंद्र के हॉर्ट अटैक के बाद रामविलास पासवान और चिराग पासवान पूरे परिवार के साथ अस्पताल में ही मौजूद थे।

लोक जनशक्ति पार्टी के एक नेता ने बताया कि एलजेपी अध्यक्ष रामविलास पासवान के भाई रामचंद्र पासवान 10 दिन पहले 12 जुलाई को दिल्ली स्थित आवास पर सीने में दर्द की शिकायत की थी। इसके बाद उन्हें दिल्ली के राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन भी समय-समय पर उनके स्वास्थ्य की जानकारी डॉक्टरों से ले रहे थे।

परिवार के एक सदस्य ने बताया कि चिकित्सकों ने दिल का दौरा की बात कही है। फिलहाल उन्हें वेटिलेटर पर रखा गया था। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान पिछले कई दिनों से अस्पताल में ही मौजूद थे। बता दें कि रामचंद्र पासवान लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान के छोटे भाई हैं।

उनके निधन की खबर सामने आने के बाद से बिहार की सियासत में खलबली मच गई है। रामचंद्र पासवान एलजेपी के समस्‍तीपुर से लगातार चार बार से सांसद हैं। रामचंद्र पासवान तीनों भाइयों में सबसे छोटे हैं। तीनों भाई और चिराग पासवान सांसद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here