चुनाव आयोग ने 10 राज्यसभा सीटों पर होने वाले चुनाव को किया रद्द

0

चुनाव आयोग ने जुलाई में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव और तीन जून से शुरू हो रही ईवीएम चुनौती के मद्देनजर आठ जून को राज्यसभा की 10 सीटों पर होने वाले चुनावों को सोमवार (22 मई) को रद्द कर दिया।

राज्यसभा

पीटाआई कि ख़बर के मुताबिक, चुनाव आयोग के एक संक्षिप्त बयान में कहा गया कि उसने गोवा, गुजरात और पश्चिम बंगाल की राज्यसभा सीटों पर चुनाव की घोषणा वाले 16 मई के अपने प्रेस नोट को वापस लेने का फैसला किया है।आयोग ने कहा कि नई तारीखें सही समय पर बताई जाएंगी।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी और तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओब्रायन समेत राज्यसभा के कुछ सदस्यों का कार्यकाल जुलाई और अगस्त में समाप्त हो रहा है। आयोग की 16 मई की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार आज स्थगित कर दिये गये चुनावों के लिए अधिसूचना आज जारी की जानी थी। जिन 10 सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें चार तृणमूल कांग्रेस के, तीन कांग्रेस के, दो भाजपा के और एक माकपा के हैं।

गोवा से कांग्रेस के शांताराम नाइक का कार्यकाल 28 जुलाई को समाप्त हो रहा है, वहीं गुजरात से अहमद पटेल कांग्रेस, दिलीपभाई पंड्या (भाजपा) और स्मृति ईरानी (भाजपा) का कार्यकाल 18 अगस्त को समाप्त होगा। पश्चिम बंगाल से तृणमूल सदस्य ओब्रायन, देबब्रत बंदोपाध्याय, सुखेंदुशेखर राय और डोला सेन, कांग्रेस के प्रदीप भट्टाचार्य तथा माकपा के येचुरी का कार्यकाल भी 18 अगस्त को समाप्त हो रहा है।

आयोग के एक प्रवक्ता ने बाद में स्पष्ट किया कि राष्ट्रपति चुनाव और राज्यसभा चुनाव में टकराव की स्थिति आ सकती है क्योंकि विधानसभाओं के सचिवों को राज्यसभा चुनावों के लिए निर्वाचन अधिकारी अधिसूचित किया गया है और उन्हें राष्ट्रपति चुनाव के लिए भी सहायक निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किया जाना है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here