NDA की तरफ से उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह चुने गए राज्यसभा के उपसभापति

0

सत्तापक्ष और विपक्ष के उम्मीदवारों के नामांकन के बाद राज्यसभा उपसभापति के लिए चुनाव तय हो गया है। सरकार और विपक्ष ने अपनी-अपनी ओर से मैदान में उतार दिया है। सत्तारूढ़ राजग की तरफ से जदयू सांसद हरिवंश नारायण सिंह जबकि विपक्ष की ओर से साझा उम्मीदवार के तौर पर कांग्रेस सांसद बीके हरिप्रसाद ने नामांकन दाखिल किए हैं। राज्यसभा में गुरुवार (9 अगस्त) यानी आज उपसभापति पद के लिए चुनाव होंगे। अब मुकाबला हरिवंश बनाम हरिप्रसाद है।

संख्या बल के हिसाब से एनडीए उम्मीदवार हरिवंश की जीत लगभग तय मानी जा रही है। एक तरफ जहां एनडीए उच्च सदन में बहुमत के आंकड़ों में कमी के बावजूद जीत को लेकर पूरी तरह आश्वस्त दिख रही है। जबकि, दूसरी तरफ कांग्रेस को सदन के अंदर एंटी बीजेपी मोर्चा के खिलाफ कांग्रेस कांग्रेस के अपने नामित उम्मीदवार के पक्ष में क्षेत्रीय पार्टियों को एकजुट करने में काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

इस चुनाव के बाद विपक्ष की तस्वीर साफ हो जाएगी कि कौन-कौन से दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस के साथ खड़े रहते हैं और कौन से नहीं। हालांकि कांग्रेस इस पद पर किसी सहयोगी दल के सदस्य को उतारना चाहती थी, पर कोई इसके लिए तैयार नहीं हुआ। बीजू जनता दल ने हरिवंश का समर्थन करने के संकेत देकर जहां विपक्ष की उलटफेर करने की उम्मीदों को झटका दे दिया है।

किसका पलड़ा है भारी

राज्यसभा में फिलहाल सदस्यों की मौजूदा संख्या 244 है। जिसमें जीत के लिए 123 वोटों की जरूरत है। बीजेपी सूत्रों के मुताबिक हरिवंश को इनमें से 126 सदस्यों का समर्थन मिलने की उम्मीद है। वहीं कांग्रेस के सूत्रों ने हरिप्रसाद को 111 सदस्यों का समर्थन मिलने की उम्मीद जताई है।

ओडिशा के मुख्यमंत्री और बीजू जनता दल यानी बीजद के नेता नवीन पटनायक ने देर रात एनडीए उम्मीदवार को समर्थन देने का एलान किया। इससे एनडीए का पलड़ा भारी हो गया है। बीजद के पास राज्यसभा में 9 सांसद हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक से हरिवंश का समर्थन करने की अपील की थी।

चुनाव प्रक्रिया से खुद को अलग रखेगी AAP

दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) विपक्ष के उम्मीदवार को अपना समर्थन नहीं देगी। वह इस चुनाव प्रक्रिया से ही खुद को अलग रखेगी। आप नेता संजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस का रवैया देखकर ही हमने राज्यसभा के उप सभापति के लिए वोटिंग से किनारा करने का फैसला किया है, कांग्रेस विपक्ष की एकता में सबसे बड़ी बाधा है। राज्य सभा में उप-सभापित पद के होने वाले चुनाव से कुछ घंटे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार की देर रात दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से बात की और पार्टी उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह के लिए आम आदमी पार्टी (आप) का समर्थन मांगा।

‘आप’ नेता एवं राज्य सभा सांसद संजय सिंह ने कहा, “नीतीश कुमार ने अरविंद केजरीवाल को फोन किया और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) उम्मीदवार के लिए ‘आप’ का समर्थन मांगा।” उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस ‘आप’ का समर्थन नहीं लेना चाहती हैं, तो ‘आप’ राज्य सभा में उप-सभापति पद के लिए होने वाले मतदान का बहिष्कार करेगी।
उन्होंने कहा, “अगर राहुल गांधी जी को उनके उम्मीदवार के लिए हमारे समर्थन की जरुरत नहीं हो, तो आम आदमी पार्टी के पास मतदान का बहिष्कार करने के अलावा दूसरा कोई विकल्प नहीं है।”

देखिए लाइव अपडेट्स:-

  • राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह की तारीफ करते हुए PM नरेंद्र मोदी ने मजाकिया लहजे में कहा- अब सबकुछ ‘हरि’ के भरोसे है
  • उपसभापति के लिए हुए वोटिंग में एनडीए के हरिवंश नारायण सिंह को 125 मत मिले जबकि कांग्रेस के प्रत्याशी बी के हरि प्रसाद को 105 मत मिले।
  • NDA की तरफ से उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह राज्यसभा के उपसभापति चुने गए
  • AAP के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस का रवैया देखकर ही हमने राज्यसभा के उप सभापति के लिए वोटिंग से किनारा करने का फैसला किया है, कांग्रेस विपक्ष की एकता में सबसे बड़ी बाधा है।
  • उपसभापति चुनाव के लिए राज्यसभा में मतदान जारी। एनडीए के हरिवंश नारायण सिंह और विपक्ष के बी के हरि प्रसाद के बीच है मुकाबला।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here