इंडिया टीवी के रिपोर्टर ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, चैनल पर लगाए कई सनसनीख़ेज़ आरोप

0

इंडिया टीवी के एक सीनियर रिर्पोटर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर अपने चैनल के खिलाफ सनसनीख़ेज़ आरोप लगाए हैं। वरिष्ठ रिर्पोटर इमरान शेख ने अपने पत्र में लिखा है कि रजत शर्मा अपने चैनल में कई अवसरों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुश करने की न्यूज़ बनवाने का दबाव बनाते हैं।

इमरान शेख आगे लिखते हैं ” मुझे कई बार गढ़ी हुई न्यूज़ बनाने के लिए कहा गया है और उसकों कई बार ठीक वैसे ही जनता के सामने लाने के लिए कहा जाता था। कई बार मेंरे सीनियर ने प्रधानमंत्री को खुश करने के लिए गढ़ी हुई न्यूज बनाई है इसलिए क्योकिं उनकी रोज़ी रोटी इससे चलती है, लेकिन मैं सोचता हूं मेंरे सीनियर द्वारा कही गई ये बातें गलत हैं जिनमें मैं यकीन नहीं रखता।

उन्होंने कहा, “जैसे-जैसे समय बीतता रहा मैंरे सीनियर, मुझसे मोदी को खुश करने और गढ़ी हुई न्यूज़ बनाने का दबाव बनाते रहे। और इस वजह से में दिन-ब-दिन दिमाग़ी रूप से परेशान हो रहा था। और मैंने सोचना शुरू कर दिया कि क्या वाकई में सरकार/नेताओं को गढ़ी हुई न्यूज़ की जरूरत होती है। फिर में सोचने लगा मुझसे गढ़ी हुई न्यूज़ बनवाकर इंडिया टीवी ने मुझे बली का बकरा बनाया है।

exclusive-read-165321

जनता का रिर्पोटर से बात करते हुए इमरान शेख ने बताया कि मेंरे सीनियर फैज़ुल इस्लाम, राहुल चौधरी, जयप्रकाश चौधरी ने मुझे बहुत प्रताड़ित किया है क्योकि मैं गढ़ी हुई कहानिंयों को चलाने से मना करता था।

शेख ने आगे बताया ” मुझे गलत मत समझों मैं भी मोदी का बहुत बड़ा फैन था लेकिन मैंरे लिए पत्रकारिता के आदर्श ज्यादा मायने रखते हैं।

उन्होंने आगे कहा ” जब भी मेंने गढ़ी हुई न्यूज़ करने से मना किया है, मेंरे सीनियर ने प्रताड़ित किया और वो लोग मुझे हफ्ते में दो-दो बार सस्पेंड करते रहे। मुझ पर अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की गई।

शेख आगे कहते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी जब आपकी अदालत में आए थे तो मैं ऑडियन्स बनना चाहता था लेकिन मुझे इसमें भी निराशा हाथ लगी।

आपको बता दें कि शेख ने  फैज़ुल इस्लाम, राहुल चौधरी, जयप्रकाश चौधरी के खिलाफ मानहानि का केस किया है।

शेख द्वारा किया गया सनसनीखे़ज़ खुलासा तब सामने आया जब कुछ महीनों पहले ज़ी न्यूज के पूर्व पत्रकार विश्वादीपक ने ज़ी न्यूज़ पर मनगढ़त न्यूज चलाने का आरोप लगाते हुए चैनल से इस्तीफा दे दिया था।

जब जनता का रिपोर्टर ने इंडिया टीवी के एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा से बात करने की कोशिश की तो रजत शर्मा ने इस मुद्दे पर बात करने से मना कर दिया और कहा कि आपकों जो भी बात करनी है मैसेज करके पूछिए लेकिन जब शर्मा को  मैसेज किया गया उनका कोई रिप्लाई नहीं आया।

img-20161010-wa0007img-20161010-wa0008