कर्नाटकः बेंगलुरु में ‘पद्मावती’ के खिलाफ राजपूत करणी सेना ने किया विरोध प्रदर्शन

0

फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली की आगामी फिल्म ‘पद्मावती’ 1 दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है। लेकिन, फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर विवाद दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। फिल्म ‘पद्मावती’ के खिलाफ विरोध प्रदर्शन ने नया रूप ले लिया है।

बता दें कि, मंगलवार(14 नवंबर) को ही करणी सेना के लोगों ने फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए कोटा के एक सिनेमा घर में जमकर तोड़फोड़ की अब फिल्म को लेकर विरोध की यह आग पूरे देश में फैलती जा रही है। राजस्थान, यूपी के बाद अब कर्नाटक में भी करणी सेना ने इसका विरोध किया है।

Also Read:  UP चुनाव: 53 सीटों पर चौथे चरण का मतदान जारी, 9 बजे तक 10 फीसदी हुई वोटिंग, सपा-बसपा समर्थकों के बीच फायरिंग

बता दें कि, जब से फिल्म ‘पद्मावती’ का पोस्टर रिलीज हुआ है तभी से राजस्थान के अलग-अलग इलाकों में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है जो अभी तक जारी है और अब यह विरोध प्रदर्शन दूसरे राज्य में होने लगा है।

‘पद्मावती’ की रिलीज को लेकर दीपिका पादुकोण ने कहा है कि कोई भी चीज इस फिल्म के प्रसारण पर रोक नहीं लगा सकती। दीपिका ने कहा कि, ‘हम जिसके प्रति जवाबदेह हैं, वह सिर्फ सेंसर बोर्ड है। मैं जानती हूं और मेरा विश्वास है कि इस फिल्म की रिलीज को कोई रोक नहीं सकता।’ दीपिका ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री का समर्थन बताता है कि यह सिर्फ पद्मावती की बात नहीं है।

बता दें कि, फिल्म के विषय के कारण कुछ समूह इसका विरोध कर रहे हैं। खासकर राजपूत मुख्य रूप से दावा कर रहे हैं कि फिल्म इतिहास को बिगाड़ रही है और रानी पद्मावती का गलत चित्रण कर रही है, जबकि भंसाली ने इससे इनकार किया है।

बता दें कि इस फिल्म में दीपिका पादुकोण रानी ‘पद्मावती’ का रोल निभा रही हैं। उनके अलावा फिल्म में रणवीर सिंह और शाहिद कपूर भी मुख्य भूमिका में हैं। ‘पद्मावती’ फिल्म एक दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है, लेकिन फिल्म को लेकर विवाद लगातार बढ़ता ही जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here