राजीव गांधी पुण्यतिथि: पीएम मोदी, सोनिया और राहुल गांधी सहित कई दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि, प्रियंका बोलीं- ‘आप हमेशा मेरे हीरो रहेंगे’

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, संप्रग प्रमुख अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा समेत कई दिग्गजों ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 28वीं पुण्यतिथि के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

PTI

पीएम मोदी ने मंगलवार को ट्विटर पर स्वर्गीय गांधी को श्रद्धांजलि दी। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि।’

प्रणब मुखर्जी, राहुल गांधी, सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने स्वर्गीय गांधी की समाधि ‘वीर भूमि’ पर मंगलवार सुबह जाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। इनके अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, केसी वेणुगोपाल, एके एंटनी, आनंद शर्मा, शीला दीक्षित और भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी वीर भूमि पहुंचकर राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

इसके अलावा प्रियंका गांधी ने हरिवंश राय बच्चन की कविता ‘‘अग्निपथ..’ का एक अंश और अपने पिता की तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘‘आप हमेशा मेरे हीरो रहेंगे।” इस पोस्‍ट के साथ प्रियंका गांधी ने राजीव गांधी के साथ अपने बचपन की एक तस्‍वीर भी पोस्‍ट की है। इस तस्‍वीर में प्रियंका अपने पिता के पैरों में लिपटी हुई हैं।

राजीव गांधी की 28वीं पुण्यतिथि के मौके पर कांग्रेस सभी राज्यों में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है ताकि नई पीढ़ी को पूर्व प्रधानमंत्री के योगदान के बारे में अवगत कराया जा सके। पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने इस संदर्भ में कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारियों और प्रदेश इकाइयों को पत्र लिखा था। पत्र में उन्होंने बतौर प्रधानमंत्री राजीव गांधी की कई उपलब्धियों का उल्लेख करते हुए कहा कि 21 मई को पूरे देश में कार्यक्रम आयोजित किए जाएं जिनमें पूर्व प्रधानमंत्री के योगदान का उल्लेख हो ताकि युवाओं एवं नई पीढ़ी को भी इस बारे में पूरी जानकारी हो सके।

बता दें कि देश के छठे प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 21 मई 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेरम्बदूर में हत्या कर दी गई। वह 1984 में अपनी मां एवं प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की अंगरक्षकों द्वारा हत्या कर देने के बाद प्रधानमंत्री बने। उन्होंने महज 40 वर्ष की आयु में देश के सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री के रूप में पद ग्रहण किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here