राजस्थान: गर्भवती महिला के पति का आरोप- मुस्लिम होने की वजह से पत्नी का इलाज करने से अस्पताल ने किया इनकार, बच्चे की हुई मौत

0

भारत में तेजी से फैल रहे खरतनाक कोरोना वायरस महामारी के बीच राजस्थान से देश को शर्मशार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक अस्पताल ने कथित तौर पर गर्भवती महिला का इलाज करने से इनकार कर दिया, क्योंकि वह मुस्लिम थी।

राजस्थान

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, राजस्थान के भरतपुर में स्थित जनाना अस्पताल में एक गर्भवती महिला को धर्म का हवाला देते हुए कथित तौर पर भर्ती करने से इनकार कर दिया गया। पीड़ित महिला के पति का आरोप है कि अस्पताल के कर्मचारियों ने उन्हें जयपुर के एक अस्पताल में जाने को कहा, क्योंकि हम मुस्लिम हैं। पीड़िता के पति का कहना है कि अभी उन्होंने भरतपुर पार भी नहीं किया था कि उनकी पत्नी ने रास्ते में ही बच्चे को जन्म दे दिया और नवजात की मौत हो गई।

वहीं, इस पूरे मामले पर जनाना अस्पताल के प्राचार्य डॉ. रूपेंद्र झा का कहना है कि वह इस मामले पर अभी कुछ भी नहीं कहेंगे। उन्होंने कहा कि, वे जांच के बाद इस मामले में कुछ कह पाएंगे।

इस मामले पर राजस्थान सरकार में मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने ट्वीट कर कहा है, “भरतपुर के जनाना अस्पताल में एक मुस्लिम गर्भवती महिला का इलाज करने से मना करते हुए डॉक्टर द्वारा कहा गया कि आप मुस्लिम हैं जयपुर जाकर इलाज करवायें। इस दौरान अस्पताल के कॉरिडोर में प्रसव के दौरान बच्चे ने दम तोड़ दिया। ये बेहद शर्मनाक घटना है।” उन्होंने आगे कहा कि, “भरतपुर के स्थानीय विधायक जो कि चिकित्सा राज्यमंत्री भी हैं और भरतपुर शहर के अस्पताल की यह स्थिति है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here