नोटबंदी पर विपक्ष हुआ एकजूट, राहुल बोले PM खुद पर लगे आरोपों की जांच कराएं

0

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को आठ विपक्षी दलों के नेताओं के साथ नोटबंदी के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी सरकार पर फिर हमला बोला। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से करप्शन और काले धन पर कोई असर नहीं पड़ा है।

c0rmr_kuqaa-bkv

नोटबंदी पर विपक्ष की बैठक के बाद संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा. राहुल गांधी ने कहा, ”नोटबंदी के बचाव में सरकार के सभी तर्क खत्म हो गए हैं। नोटबंदी का कालेधन पर भी कोई असर नहीं हुआ है। इससे एक नए तरह का भ्रष्टाचार का शुरू हुआ है।”

मीडिया रिपोट्स के मुताबिक, राहुल ने कहा, “30 दिसंबर की तारीख करीब है, पचास दिन की मोहलत खत्म होने वाली है, देश में हालात कब सुधरेंगे?” राहुल ने कहा, “पीएम को देश को जवाब देना चाहिए कि नोटबंदी का असल उद्देश्य क्या था और जो लोग इससे प्रभावित हुए हैं उनके लिए वह क्या करेंगे?” कॉन्‍फ्रेंस में कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी नहीं पहुंची। उनकी जगह राहुल गांधी ने नेतृत्व किया।

पं. बंगाल सीएम ममता बनर्जी ने भी मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘मोदीजी ने कहा कि अच्‍छे दिन आएंगे, क्‍या यही अच्‍छे दिन हैं?’ ममता ने नोटबंदी को घोटाला बताते हुए कहा कि ‘नोटबंदी बहुत बड़ा घोटाला है, आजादी के बाद सबसे बड़ा। नोटबंदी से देश 20 साल पीछे चला गया है।

उन्‍होंने नरेंद्र मोदी सरकार पर तानाशाही करने का आरोप लगाते हुए कहा कि ‘यह (मोदी) निडर सरकार है, वे किसी के बारे में कुछ नहीं सोचते। उनका जो मन आता है वही करते हैं,

इसके साथ ही राहुल ने एक बार फिर सहारा-बिड़ला मामले को उठाते हुए कहा, “आयकर विभाग ने स्वयं कहा है कि इस मामले की जांच होनी चाहिए, पीएम मोदी हमारे सभी सवालों के जवाब दे रहे हैं। लेकिन वह डायरी मामले पर क्यों जवाब नहीं दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here