गुजरात: चिंतन बैठन में बोले राहुल गांधी- जो कांग्रेस के सदस्य हमारे साथ मिलकर नहीं लड़े उनपर कार्रवाई होगी

0

कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद और गुजरात चुनाव के परिणाम आने के बाद गुजरात दौरे पर पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार (23 दिसंबर) शाम को पार्टी कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जो कांग्रेस के सदस्य हमारे साथ मिलकर नहीं लड़े उनपर कार्रवाई होगी।

PHOTO: @INCIndiaराहुल गांधी ने हार के लिए इशारों ही इशारों में पार्टी में भीतरघात को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने पार्टी के उन कार्यकर्ताओं को चेतावनी भी दे डाली, जिन्होंने पार्टी का साथ नहीं दिया। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर कांग्रेस एकसाथ खड़ी हो जाती है तो वह हारती नहीं है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा कि, ’90 प्रतिशत लोग एक साथ लड़े और चुनाव में कांग्रेस को जिताने की कोशिश की।’ चेतावनी देते हुए उन्होंने यह भी कहा कि, ‘5-10 प्रतिशत लोगों ने पार्टी की मदद नहीं की और अब उनके खिलाफ ऐक्शन लिया जाएगा।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगली बार हम और बेहतर प्रदर्शन करते हुए गुजरात में 135 सीटें जीतेंगे। चुनाव के बाद कांग्रेस के चिंतन बैठक को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने गुजरात के नेताओं से कहा कि आपने 70 फीसदी लक्ष्य हासिल कर लिया है। आपने ये भरोसा दिला दिया है कि हम जीत सकते हैं।

उन्होंने कहा कि हम अगली बार बेहतर करेंगे, पर तब तक आपको चुप नहीं बैठना है। कदम कदम पर बीजेपी को जवाब देना होगा। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी की बुनियाद ही झूठ पर आधारित है और अब उसका एक एक झूठ बेनकाब हो रहा है। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी का मॉडल यह है कि झूठ बोलते रहो और उसे तब तक दोहराते रहो जब तक उस पर लोग यकीन न कर लें।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि लेकिन अब लोग उनसे सवाल पूछने लगे हैं। यह कांग्रेस के लिए बहुत सकारात्मक हैं। अहमदाबाद में हुई आत्मविश्लेषण बैठक के तीसरे और अंतिम दिन राहुल गांधी ने कांग्रेस के सभी विजयी विधायकों से दिन भर अलग-अलग जोन के हिसाब से मुलाकात की।

सोमनाथ मंदिर में की पूजा-अर्चना

राहुल गांधी गुजरात विधानसभा चुनावों पर आत्मविश्लेषण बैठक में हिस्सा लेने से पहले सोमनाथ मंदिर में पूजा करने पहुंचे। राहुल सौराष्ट्र में केशोद हवाई अड्डे पर उतरे सोमनाथ मंदिर पहुंच कर विधिपूर्वक पूजा अर्चना की। पूजा के समय राहुल के साथ वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक गहलोत, भरत सिंह सोलंकी भी थे।

राहुल पूजा की थाल लेकर पैदल चलकर मंदिर के गर्भगृह तक पहुंचे। उन्होंने विधिपूर्वक आरती की। मंदिर प्रबंधन की ओर से उन्होंने शॉल और बाबा सोमनाथ तस्वीर भेंट की गई। राहुल राज्य में हाल में चुनाव प्रचार के दौरान भी सोमनाथ मंदिर गए थे। चुनाव प्रचार के दौरान राहुल ने 27 मंदिरों में जाकर दर्शन किए थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here