राफेल मुद्दे पर राहुल गांधी ने फिर साधा PM मोदी पर निशाना, पूछा- ऑडियो लीक होने के 1 महीने बाद भी क्यों नहीं हुई कार्रवाई? पर्रिकर के पास गोपनीय दस्तावेज

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे के मुद्दे पर सोमवार (28 जनवरी) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरते हुए एक बार फिर हमला बोला। गांधी ने कहा है कि गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के पास राफेल सौदे से संबंधित दस्तावेजों मौजूद होने के दावे से संबंध में जो ऑडियो टेप एक महीने पहले सामने आया था उसको लेकर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि यह टेप सही है और गोवा के सीएम पर्रिकर के पास राफेल से जुड़े बहुत सारे सीक्रेट फाइल हैं।

राहुल गांधी
फाइल फोटो- @INCIndia

राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, “गोवा में राफेल विमान सौदे को लेकर जो ऑडियो टेप जारी किया गया था उसे 30 दिन पूरे हो चुके हैं। इस बारे में ना कोई एफआईआर दर्ज की गई और ना ही किसी तरह से जांच के आदेश दिए गए हैं। ना ही मंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई की गई है।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि टेप बिल्कुल सही है, इसके बावजूद कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। उन्होंने आगे लिखा, “यह टेप निश्चितरूप से प्रमाणिक है और गोवा के मुख्यमंत्री पर्रिकर के पास राफेल की गोपनीयता से जुड़े महत्वूर्ण दस्तावेज हैं और इसी के कारण प्रधानमंत्री पर कार्रवाई नहीं हो रही है।”

उन्होंने सोमवार को गोवा सरकार में मंत्री विश्वजीत राणे के एक बयान के जवाब में यह बात अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कही। गांधी ने गोवा सरकार के मंत्री विश्वजीत राणे का एक बयान भी शेयर किया है जिसमें कहा वह कह रहे हैं कि टेप के साथ छेड़छाड़ की गई है और इसके जरिए कांग्रेस ने मुख्यमंत्री तथा कैबिनेट के बीच गलतफहमी पैदा करने का प्रयास किया है। कैबिनेट में पर्रिकर ने राफेल का कोई जिक्र ही नहीं किया है।

कांग्रेस ने जारी किया था विवादास्पद ऑडियो

बता दें कि कांग्रेस ने 2 जनवरी 2018 को एक ऑडियो फाइल जारी की थी जिसमें ऐसा लग रहा था कि गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत प्रताप सिंह राणे कथित तौर पर कह रहे हैं कि गोवा के मुख्यमंत्री व पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के पास राफेल सौदे की सभी अहम फाइलें हैं। कांग्रेस ने दावा किया था कि बीजेपी मंत्री ने उस अज्ञात शख्स को बताया कि मनोहर पर्रिकर ने कैबिनेट की बैठक में कहा कि राफेल डील के कागजात उनके बेडरूम में हैं, उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने अपने इस दावे के सबूत के तौर पर गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे की कथित बातचीत की एक ऑडियो क्लिप भी सुनाई। इतना ही नहीं शीतकालीन सत्र में राहुल गांधी ने इस टेप का मामला लोकसभा में उठाने का प्रयास किया था, लेकिन जब लोकसभा अध्यक्ष ने उनसे टेप की प्रमाणिकता को लेकर सवाल किया तो उन्होंने संसद में टेप नहीं चलाया और ना ही इससे दर्ज बातचीत का उल्लेख किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here