पंजाब CM कैप्‍टन अमरिंदर सिंह द्वारा राहुल गांधी के प्रति ‘असम्मान’ दिखाए जाने पर लोगों ने उठाए सवाल

0

पिछले दिनों एक खबर को लेकर सोशल मीडिया पर काफी चर्चा हुई थी। दरअसल, खबर आई थी कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) एक जवान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के साथ ‘श्री’ या ‘माननीय’ ना लगाने पर बीएसएफ ने उसे सात दिन की सैलरी काटे जाने की सजा दी है। ये जवान पीएम मोदी के नाम के साथ ‘श्री’ लगाना भूल गया था, इसने प्रधानमंंत्री को ‘श्री’ मोदी ना कहकर मोदी कह दिया था।

File Photo: Punjabtribune

इसको बीएसएफ ने प्रधानमंत्री का अनादर माना और सजा तौर पर उसकी सात दिन की सैलरी काट लिए जाने का आदेश दिया। जवान बीएसएफ में कांस्टेबल है। हालांकि सोशल मीडिया पर यह खबर काफी वायरल हुई थी और यह शेयर होते-होते पीएम मोदी तक पहुंच गई। जिसके बाद खुद पीएम मोदी ने नाखुशी जताई और जवान को सजा के तौर पर सैलरी काटने के फैसले को वापस लेने का आदेश दिया। जिसके बाद बीएसएफ ने अपना फैसला वापस ले लिया।

इस खबर का जिक्र हमें इसलिए करना पड़ा है, क्योंकि एक ऐसा ही मामला पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से जुड़ा हुआ आ रहा है। सिंह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रति असम्मान दिखाए जाने पर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। दरअसल, अमरिंदर सिंह का आज (11 मार्च) अपना जन्मदिन मना रहे है। सीएम के शुभचिंतक उन्हें शुभकामना दे रहे हैं और उनकी सेहतमंद जिंदगी और लंबी उम्र की कामना कर रहे हैं।

अमरिंदर सिंह को शुभकामना देने वालों में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत तमाम हस्तियां शामिल हैं। सिंह को जन्मदिन की बधाई देते हुए पीएम मोदी ने लिखा है, “पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह जी को जन्मदिन की शुभकामनाएं, मैं उनके लंबे और स्वस्थ जीवन की कामना करता हूं।” कैप्टन ने इसके जवाब में लिखा, “आपकी शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद नरेंद्र मोदी जी।”

लेकिन सोशल मीडिया पर एक चूक को लेकर पंजाब सीएम यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। सिंह को जिन्होंने भी जन्मदिन की बधाई दी है उन्हें सम्मानजनक शब्दों जैसे नाम के आगे ‘श्री’ या नाम के आखिरी में ‘जी’ लगाकर धन्यवाद दिया है। लेकिन कांग्रेस राहुल गांधी को धन्यवाद देते समय कैप्टन ने उनके नाम के आगे या पीछे कुछ भी नहीं लगाया है। जबकि राहुल उन्हें ‘जी’ कहकर संबोधित किया है। यूजर्स इसे राहुल गांधी के प्रति ‘असम्मान’ करार देते हुए पंजाब सीएम पर निशाना साध रहे हैं।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाए जाने के खिलाफ आवाज उठाने वाले शहजाद पूनावाला ने एक के बाद एक कई स्क्रीनशॉट शेयर कर पंजाब सीएम सहित राहुल गांधी पर भी सवाल उठाए हैं। शहजाद का कहना है कि आखिर अमरिंदर सिंह ने पीएम मोदी सहित सभी को ‘जी’ या ‘श्री’ जैसे सम्मानजनक शब्दों के साथ धन्यवाद दिया है, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष को सिर्फ ‘राहुल’ कहकर क्यों संबोधित किया है। शहजाद के अलावा कुछ और सोशल मीडिया यूजर्स ने सवाल उठाए हैं।

बता दें कि त्रिपुरा, नगालैंड में बीजेपी की जीत के बाद पीएम नरेंद्र ने कांग्रेस के सिमटते जनाधार पर तंज कसा था और कहा था कि कांग्रेस के मुख्यमंत्री दुर्लभ होते जा रहे हैं। साथ ही पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बहाने कांग्रेस पर चुटकी भी ली थी। कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के रिश्तों पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि पंजाब में जो सीएम हैं वो कांग्रेस को अपना नहीं मानते और कांग्रेस उन्हें अपना नहीं मानती।

कैप्टन अमरिंदर सिंह एक स्वतंत्र फौजी हैं। हालांकि प्रधानमंत्री के कटाक्ष के कुछ देर बाद ही कैप्टन सिंह ने भी पलटवार कर कहा था कि पीएम अपने इस तुच्छ बयान से उनके और पार्टी के बीच कोई दिक्कत पैदा नहीं कर पाएंगे। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि कांग्रेस आलाकमान को उनपर पूरा भरोसा है और वह भी अपने पार्टी नेतृत्व पर पूरा भरोसा करते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here