राहुल ने कहा-NDA के पास कश्मीर को लेकर कोई रणनीति नहीं, जब से जम्मू-कश्मीर में PDP-BJP गठबंधन हुआ आतंकवाद की घटनाएं बढ़ी

0

उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात जिले में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार शाम केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुये कहा कि राजग के पास जम्मू-कश्मीर को लेकर कोई रणनीति नहीं है, जबकि यह एक गंभीर मामला है. जब से जम्मू-कश्मीर में पीडीपी और भाजपा का गठबंधन हुआ है तभी से आतंकवाद की घटनाएं बढ़ी हैं.

‘देवरिया से दिल्ली-किसान यात्रा’ के तहत गांधी की कानपुर देहात जिले के पुखराया में खाट सभा का आयोजन किया गया था. बाद में पत्रकारों से उन्होंने कहा कि कश्‍मीर के उरी में जो हुआ उसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान के साथ हमारी सरकार की नीति पर है. जम्मू-कश्मीर में नौ साल कांग्रेस गठबंधन की सरकार रही और हमने आतंकवाद को दबा दिया. वर्तमान सरकार में पीडीपी और भाजपा में जो गठबंधन है, जिसने वहां आतंकवाद की राह खोली है.

भाषा की खबर के अनुसार,राहुल ने आरोप लगाया कि पीडीपी के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ”अदूरदृष्टि वाले” राजनीतिक गठबंधन ने कश्मीर में आतंकवाद के लिए रास्ता खोल दिया. उन्होंने कहा, ”मैं अपने सैनिकों के साथ खड़ा हूं और पाकिस्तानियों ने उन पर जो किया मैं उसकी निंदा करता हूं. हालांकि उसके लिए स्थान राजनीति ने बनाया, जो जम्मू-कश्मीर में राजग ने की.” यह आरोप लगाते हुए राजग के पास कश्मीर के संबंध में कोई ”रणनीति नहीं” है, राहुल ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘वह एक घटना से दूसरी पर जाते हैं और इस तरह राष्ट्रीय सुरक्षा से नहीं निपटा जाता.’

उन्होंने कहा, ”राष्ट्रीय सुरक्षा से जनसभा की तरह नहीं निपटा जा सकता . यह एक गंभीर मसला है.” एक ट्वीट में कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ”मोदीजी : सेल्फी और साउंड बाइट से कश्मीर रणनीति नहीं बनायी जा सकती.” कुछ समय पहले केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के साथ अपनी बैठक को याद करते हुए राहुल ने दावा किया कि उन्होंने साफ तौर पर वित्त मंत्री से कहा था कि देश, कश्मीर में ”बहुत बड़ी समस्या” की ओर बढ़ रहा है. उन्होंने कहा, ”वित्त मंत्री ने अनसुना कर दिया और मुझसे कहा कि कश्मीर में कोई समस्या नहीं है.”

उन्होंने कहा, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इवेंट मैनेजमेंट की बात करते हैं लेकिन यह लड़ाइयां मैनेजमेंट से नहीं जीतीं जाती, क्योंकि यह एक गंभीर मामला है. असल में राजग के पास कश्मीर को लेकर कोई रणनीति ही नहीं है. हमारे जो जवान वहां शहीद हुये है उन्हें मैं श्रद्धांजलि देता हूं और इस हमले की कड़ी निंदा करता हूं.”

उन्होंने कहा कि जवानों के परिवारों के लिये जरूर कुछ किया जाना चाहिये और कश्मीर के लिये एक रणनीति बनाने की जरूरत है और इस रणनीति के आधार पर ही कार्रवाई होनी चाहिये.

राहुल ने कहा कि कांग्रेस हर मुमकिन तरीके से मदद करने को तैयार है. उन्होंने कहा, ”हालांकि हमें ठोस, दीर्घावधि की रणनीति चाहिए. घटना आधारित गतिविधियां नहीं. क्योंकि यह देश के लिए बहुत खतरनाक है.”

राहुल ने प्रदेश की समाजवादी सरकार और बहुजन समाज पार्टी को भ्रष्टाचार में डूबा हुआ बताया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here