राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर लगाया झूठ बोलने का आरोप, बोले- “अमेठी की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री का शिलान्यास 2010 में मैंने किया था”

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेठी में हथियार फैक्ट्री को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि अमेठी में हथियार फैक्ट्री को लेकर पीएम मोदी ने झूठ बोला है। साथ ही उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि, ‘क्या आपको बिल्कुल भी शर्म नहीं आती?’

राहुल गांधी
REUTERS/Anushree Fadnavis/File Photo

राहुल गांधी ने सोमवार (4 मार्च) को ट्वीट कर लिखा, “प्रधानमंत्री जी, अमेठी की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री का शिलान्यास 2010 में मैंने खुद किया था। पिछले कई सालों से वहां छोटे हथियारों का उत्पादन चल रहा है। कल आप अमेठी गए और अपनी आदत से मजबूर होकर आपने फिर झूठ बोला। क्या आपको बिल्कुल भी शर्म नहीं आती?”

राहुल गांधी के इस ट्वीट पर पलटवार करते हुए मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने लिखा, “शिलान्यास नहीं सत्यानाश किया है आपने अमेठी में। झूठ कितने बोले अमेठी से आज चलें फिर से उसका पर्दाफ़ाश करते हैं।”

वहीं एक अन्य ट्वीट में स्मृति ईरानी ने लिखा, “आपको डर इतना है की अमेठी में विकास हो रहा है की आपने ये देखने की तकलीफ़ नहीं उठायी की कल कोरवा में JV का उद्घाटन हुआ है। इसके तहत भारत और रूस के बीच समझौता हुआ AK 203 राइफ़ल के निर्माण का।”

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को अपने अमेठी दौरे में विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया था। इस दौरान पीएम ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा था कि, ‘पहले जो सरकार थी उसने सुरक्षा बलों की सुरक्षा को नजरअंदाज करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी थी।’

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को निशाने पर लेते हुए कहा, ‘कुछ लोग जगह जगह घूमकर भाषण करते रहते हैं – मेड इन उज्जैन, मेड इन जैसलमेर, मेड इन बड़ौदा। लेकिन ये मोदी है… अब यहां बनने वाली राइफल मेड इन अमेठी के नाम से जानी जाएगी। दुनिया की सबसे आधुनिक राइफल एके-203 का अमेठी में निर्माण होगा।’

उन्होंने कहा, ‘यही लोग वर्षों तक राफेल विमानों के सौदे पर बैठे रहे और जब सरकार जाने की बारी आई तो उसको ठंडे बस्ते में डाल दिया। हमारी सरकार आई और डेढ़ साल के भीतर सौदे पर मुहर लगाई और कुछ ही महीने में दुश्मन के होश उड़ाने के लिए पहला राफेल विमान भारत के आसमान में होगा।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि एके-203 राइफलों से आतंकियों और नक्सलियों के साथ होने वाली मुठभेड़ों में हमारे सैनिकों को निश्चित रूप से बहुत बढ़त मिलने वाली है।

जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने दावा किया था कि यहां के हथियार फैक्ट्री में कुछ नहीं बन रहा था। उन्होंने कहा था, 2007 में जब फैक्ट्री का शिलान्यास किया गया था, तब कहा गया था कि 2010 से इसमें काम शुरू हो जाएगा। पहले की सरकार तीन साल तक यह तय नहीं कर पाई कि इसमें कौन से हथियार बनेंगे। उसे जमीन भी नहीं मिली। इमारत 2013 तक लटकी रही।

राहुल गांधी ने पीएम मोदी के इसी दावे को झूठा करार दिया है, जिसमें पीएम मोदी ने कहा था कि शिलान्यास के बाद फैक्ट्री में कोई हथियार बन ही नहीं रहे थे। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि फैक्ट्री में पिछले कई सालों से छोटे हथियारों का उत्पादन चल रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि, अपनी आदत से मजबूर होकर आपने फिर अमेठी में झूठ बोला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here