VIDEO: भूख लगी तो अचानक पटना के रेस्तरां में पहुंच गए राहुल गांधी, डोसा और कॉफी का उठाया लुत्फ, देखें वीडियो

0

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद राहुल गांधी शनिवार को मानहानि के एक मामले की सुनवाई में भाग लेने बिहार की राजधानी पटना की अदालत पहुंचे। इस बीच जब उन्हें भूख लगी तो वह अचानक से एक रेस्तरां में पहुंच गए और वहां उन्होंने डोसा और कॉफी का लुत्फ उठाया। पटना व्यवहार न्यायालय से निकलने के बाद राहुल गांधी मौर्य लोक स्थित बसंत विहार रेस्टरोरेंट पहुंचे और एक टेबल की ओर बढ़ गए।

Photo: Twitter

शनिवार दोपहर को रेस्तरां में मौजूद लोग अचानक राहुल गांधी को अपने बीच पाकर आश्चर्यचकित हो गए। इसके बाद रेस्तरां में उपस्थित लोगों ने अपने मोबाइल से तस्वीरें लेनी प्रारंभ कर दी। राहुल ने इस दौरान वहां कुछ बच्चों और परिवार के संग आए लोगों से मुलाकात की और उनसे बातचीत की। राहुल के साथ इस दौरान शक्ति सिंह गोहिल, सांसद अखिलेश सिंह, विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा, विधायक अजीत शर्मा सहित कई अन्य लोग मौजूद थे।

कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने बताया कि राहुल ने इस क्रम में पार्टी के नेताओं से पार्टी के विषय में बातचीत की और बिहार की कई समस्याओं की जानकारी भी ली। उन्होंने बच्चों से भी मुलाकात की और उनसे बातचीत के क्रम में उनके वर्ग और स्कूल के विषय में जानकारी प्राप्त की। इसके बाद राहुल सबका अभिवादन स्वीकार करते हुए एयरपोर्ट की ओर निकल गए। वैसे कई लोगों को इसका मलाल रहा कि राहुल को बिहार आने के बाद बिहारी व्यंजन लिट्टी-चोखा का आंनद लेना चाहिए था।

राहुल गांधी को मिली जमानत

उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी भाजपा नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की ओर से दायर मानहानि के मामले की मामले की सुनवाई में भाग लेने पटना पहुंचे थे। अदालत ने राहुल को इस मामले में जमानत दे दी। राहुल ने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार और भाजपा-आरएसएस के खिलाफ आवाज उठाने के कारण उन्हें निशाना बनाया गया और लेकिन वह अपनी लड़ाई जारी रखेंगे।

कांग्रेस नेता ने सांसदों और विधायकों के मुकदमे के लिए बनी विशेष अदालत के न्यायाधीश अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कुमार गुंजन के सामने आत्मसमर्पण किया, जिसके बाद उन्हें जमानत दे दी गई। सुशील मोदी के अधिवक्ता शंभू प्रसाद ने कहा कि अदालत ने मामले की अगली सुनवाई के लिए आठ अगस्त की तारीख निर्धारित की है। अदालत परिसर से रवाना होने से पहले राहुल ने पत्रकारों से कहा कि वह देश के गरीबों के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेंगे।

बीजेपी नेता सुशील मोदी ने दायर किया है मामला

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गत अप्रैल में राहुल के खिलाफ मानहानि का मामला दायर किया था। सुशील मोदी ने उक्त मामला राहुल द्वारा यह टिप्पणी करने पर आपत्ति जताते हुए दायर किया था कि सभी चोरों के उपनाम मोदी क्यों हैं? गांधी का इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बैंक धोखाधड़ी के आरोपी नीरव मोदी और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी की ओर था। (इनपुट-
आईएएनएस के साथ)

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here