VIDEO: केरल बाढ़ दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी ने पेश की मिसाल, महिला की जान बचाने के लिए किया आधे घंटे इंतजार, पहले जाने दिया एयर एंबुलेंस

0

केरल बाढ़ पीड़ितों का हाल-चाल जानने के लिए मंगलवार(28 अगस्त) को चेंगन्नूर पहुंचे कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने केरल में एक ऐसा काम किया की उनकी सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है।

बता दें कि राहुल गांधी ने बाढ़ की त्रासदी झेल रहे केरल का दौरा करके वहां राहत शिविरों में रह रहे लोगों से मुलाकात की और उनका हाल-चाल जाना। इस बीच खबर है कि इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष ने सद्भावना दिखाते हुए केरल के चेंगन्नूर क्रिश्चियन कॉलेज में बने एक हेलीपैड से अपने हेलीकॉप्टर से पहले एक एयर एंबुलेंस को उड़ान भरने दी।

रिपोर्ट के मुताबिक, साथ ही उन्होंने यह सुनिश्चित किया कि मेडिकल इमर्जेंसी के लिए एयर ऐम्बुलेंस पर जा रहे मरीज को प्राथमिकता दी जाए। वे यहीं नहीं रूके इस दौरान उन्होंने एयर एंबुलेंस के पास जाकर बीमार मरीज से मिलकर उसकी तबीयत के बारे में भी पूछा और पायलट से भी बात की।

ख़बरों के मुताबिक, उन्होंने मरीज की जिंदगी बचाने के लिए अपनी उड़ान आधे घंटे तक रोक दी। राहुल गांधी की इस पहल से सुरक्षा में तैनात एसपीजी कर्मी भी हैरान रहे। कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक पी सी विष्णुनाथ ने बताया ‘एयर एंबुलेंस देखते ही राहुल गांधी ने एसपीजी कर्मियों से पहले एयर ऐंबुलेंस को उड़ान भरने की इजाजत देने को कहा था।’

राहुल गांधी के इस काम की सोशल मीडिया यूजर्स जमकर तारीफ कर रहें है।

बता दें कि, कांग्रेस प्रमुख ने सबसे पहले केरल के क्रिश्चियन कॉलेज में राहत शिविर का दौरा किया और वहां रह रहे लोगों से बात की। उन्होंने एक इंजीनियरिंग कॉलेज में बने राहत शिविर का भी दौरा किया। शिविरों में रह रहे लोगों से मुलाकात करते राहुल गांधी की तस्वीरें शेयर करते हुए पार्टी ने ट्वीटर पर लिखा, ‘कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चेंगन्नूर में इंजीनियरिंग कॉलेज में राहत शिविर में रह रहे बाढ़ प्रभावित लोगों से मुलाकात करते हुए।’

बता दें कि इससे पहले राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि, ‘कल और इसके एक दिन बाद मैं केरल में रहूंगा, राज्य के बाढ़ प्रभावित इलाकों और राहत शिविरों का दौरा करूंगा। मैं मछुआरों, स्वयंसेवकों और अन्य लोगों से मिलूंगा जो जरूरतमंद लोगों की नि:स्वार्थ भाव से अथक सहायता कर रहे हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here