राफेल विवाद: राहुल गांधी ने JPC जांच के लिए जेटली को याद दिलाई डेडलाइन, कहा- ‘अब सिर्फ 6 घंटे बचे हैं, यंग इंडिया कर रहा है इंतजार’

0

‘जनता का रिपोर्टर’ द्वारा राफेल लड़ाकू विमानों के सौदे को लेकर किए गए खुलासे के बाद राजनीतिक गलियारों में भूचाल आ गया है। कांग्रेस राफेल डील पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को बख्शने के मूड में नहीं हैं। ‘जनता का रिपोर्टर’ द्वारा उठाए गए सवाल के बाद सरकार और विपक्ष के बीच सौदे को लेकर घमासान जारी है। एक ओर जहां केंद्र सरकार इस सौदे को गोपनीयता का हवाला देकर सार्वजनिक करने से बच रही है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस इसमें घोटाले का आरोप लगा रही है।

फाइल फोटो

कांग्रेस इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार राफेल मुद्दे को उठा रहे हैं। वहीं, राजधानी दिल्ली में गुरुवार (30 अगस्त) को यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस मुख्यालय से पीएम आवास तक मार्च कर रहे हैं। इस बीच राफेल सौदे की जांच जेपीसी के कराने को सरकार तैयार है या नहीं, इस पर राहुल गांधी ने बुधवार को केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से 24 घंटे में जवाब मांगा था। अब राहुल गांधी ने गुरुवार को एक बार फिर ट्वीट कर जेटली को याद दिलाया है कि अब सिर्फ 6 घंटे बचे हैं।

राफेल मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) के गठन की मांग पर अरुण जेटली से 24 घंटे के भीतर जवाब मांगने के एक दिन बाद राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि जेटली को इस पर जल्द जवाब देना चाहिए, क्योंकि ‘समयसीमा खत्म हो रही है। गांधी ने ट्वीट कर कहा, ”प्रिय जेटली जी, राफेल की जांच के लिए जेपीसी के गठन के संदर्भ में आपकी समयसीमा खत्म होने में छह घंटे बचे हैं।

उन्होंने कहा, ”युवा भारत इंतजार कर रहा है। मैं आशा करता हूं कि आप मोदी जी और अनिल अंबानी जी को इस बात के लिए मनाने में लगे हैं कि उन्हें आपकी बात क्यों सुननी चाहिए और इसकी अनुमति देनी चाहिए। जेटली द्वारा बुधवार को राफेल मामले में कांग्रेस पर झूठ फैलाने का आरोप लगाए जाने के बाद राहुल गांधी ने उन पर पलटवार किया था और आरोप लगाया कि ‘आपके सुप्रीम लीडर अपने एक मित्र को बचा रहे हैं।

राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट कर कहा था, ”जेटली जी, ‘ग्रेट राफेल रॉबरी की तरफ राष्ट्र का ध्यान खींचने के लिए धन्यवाद। इस बारे में क्या खयाल है कि संयुक्त संसदीय समिति से इसका समाधान होगा? समस्या यह है कि आपके सुप्रीम लीडर अपने मित्र को बचा रहे हैं, इसलिए यह असुविधाजनक हो सकता है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने जेटली को संबोधित करते हुए कहा था, ”जांच-परख कीजिए और अगले 24 घंटों में जवाब दीजिए। हम इंतजार कर रहे हैं। दरअसल, जेटली ने राफेल विमान सौदे के बारे में कांग्रेस के ऊपर झूठ फैलाने का आरोप लगाया और कहा कि विपक्षी पार्टी तथा उसके नेता राहुल गांधी फर्जी अभियान चलाकर राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ गंभीर खिलवाड़ कर रहे हैं।

बता दें कि ‘जनता का रिपोर्टर’ ने राफेल विमान सौदे को लेकर दो भागों (पढ़िए पार्टी 1 और पार्टी 2 में क्या हुआ था खुलासा) में बड़ा खुलासा किया था। जिसके बाद राजनीतिक गलियारों में भुचाल आ गया। कांग्रेस राफेल डील को लेकर मोदी सरकार पर सीधे तौर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रही है। खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘जनता का रिपोर्टर’ की खबर को शेयर कर कई बार मोदी सरकार पर हमला बोल चुके हैं।

 

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here