संसद में रक्षा मंत्री दो घंटे तक बोलीं, लेकिन उन्होंने मेरे दो आसान सवालों का जवाब नहीं दिया: राहुल गांधी

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर निशाना साधा और कहा कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण संसद में दो घंटे तक बोलीं, लेकिन दो आसान सवालों का जवाब नहीं दिया।

राहुल गांधी

राहुल गांधी ने शनिवार (5 जनवरी) की सुबह लोकसभा की शुक्रवार की कार्यवाही का एक संक्षिप्त वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर करते हुए कहा, ‘रक्षा मंत्री संसद में दो घन्टे तक बोलीं। लेकिन मेरे दो आसान सवालों का जवाब नहीं दे सकीं, जो मैंने उनसे पूछे थे।’ उन्होंने कहा, ‘इस वीडियो को देखिए और शेयर करिए। ये सवाल हर भारतीय को प्रधानमंत्री एवं उनके मंत्रियों से पूछने दीजिये।’

उन्होंने सवाल किया, एचएएल से अनुबंध छीनकर अनिल अंबानी की कंपनी को किसने दिया? क्या नए सौदे को लेकर रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों को आपत्ति थी? राहुल गांधी ने शुक्रवार को यह भी कहा था कि 2019 में उनकी पार्टी की सरकार बनने पर राफेल मामले की आपराधिक जांच होगी और जिम्मेदार लोगों को सजा दी जाएगी।

राहुल गांधी ने रक्षा मंत्री से पूछे थे यह सवाल

  • हवाई जहाज के दाम को 526 करोड़ रुपये से 1600 करोड़ किसने बढाई? क्या एयरफोर्स के लोगों ने दाम बढाया या प्रधानमंत्री मोदी ने?
  • एयरफोर्स को 126 जहाज चाहिए थे लेकिन 36 हवाई जहाज का कांट्रैक्ट तैयार किया। क्या एयरफोर्स ने 36 हवाई जहाज मांगे थे या एयरफोर्स ने 126 हवाई जहाज मांगे थे?
  • अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट किसने दिलवाया, फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद ने कहा था कि ये कॉन्ट्रैक्ट पीएम मोदी ने ही अनिल अंबानी को दिलवाया है। दसॉल्ट कंपनी की अंदरूनी ईमेल में कहा गया है कि भारत सरकार ने उन्हें आदेश दिया था कि ऑफसेट कॉन्ट्रैक्ट सिर्फ अनिल अंबानी को दिया जाना चाहिए…”
  • क्या नई डील में भारत के एयरफोर्स से सलाह ली गई थी या नहीं?

बता दें कि इससे पहले शुक्रवार (4 जनवरी) को राफेल डील मामले को लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला था। राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर गाली देने का आरोप भी लगाया था। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अरुण जेटली जी ने लंबा भाषण दिया, उन्होंने मुझे गाली दी, मगर मेरे सवालों का जवाब नहीं दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here