अलवर गैंगरेप: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीड़िता से की मुलाकात, कहा- होगा न्याय

0

कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार (16 मई) को राजस्थान के अलवर में हुए गैंगरेप की पीड़िता से मुलाकात किया और उन्हें तथा उनके परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी और न्यायिक प्रक्रिया का गंभीरता से पालन किया जाएगा। इस दौरान राहुल के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी थे।

पीड़िता से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत करते राहुल गांधी।

राहुल ने थानागाजी में सामुहिक दुष्कर्म पीड़िता से मिलने के बाद पत्रकारों से कहा कि पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा और किसी भी लड़की के साथ ऐसी घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। उन्होंने अपने दौरे को राजनीति से प्रेरित बताने से इन्कार करते हुए कहा, ‘मेरे लिए यह मामला भावनात्मक मुद्दा है, इसमें कोई राजनीति नहीं है, मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं। मैंने जैसे ही इस घटना के बारे में सुना, तब मैंने तत्काल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात की और तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए।’

गांधी ने कहा कि उन्होंने बहुत सी बातें बताई हैं, जिनका मैं यहां जिक्र करना नहीं चाहता। वे शीघ न्याय की मांग कर रहे हैं, जो उन्हें मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘इस घटना के बाद मैं तत्काल आना चाह रहा था, लेकिन कुछ कारणों से आ नहीं आ पाया।’ उन्होंने कहा कि अलवर या हिंदुस्तान के किसी भी कोने में ऐसी घटनायें नहीं होनी चाहिए। पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा और दोषियों को सजा मिलेगी।

मुख्यमंत्री गहलोत ने इस घटना को राजनीतिक कारणों से छुपाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आरोप को गलत बताते हुए कहा कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद तत्काल कार्रवाई की गई। उन्होंने कहा कि इसके बाद हमने पुलिस को निर्देश दिये कि थानों में प्राथमिकी दर्ज नहीं होने पर पुलिस अधीक्षक के कार्यालय में प्राथमिकी दर्ज करायी जा सकती है। राज्य में महिलाओं से संबंधित ऐसे मामलों की जांच पुलिस के वृत्त अधिकारी स्तर के अधिकारी करेंगे। गहलोत ने पीड़ित परिवार को नौकरी देने का भी आश्वासन दिया।

अलवर जिले के थानागाजी थाना क्षेत्र में 26 अप्रैल को पति के साथ मोटरसाइकिल पर जा रही एक दलित महिला से छह लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म कर उसका वीडियो बनाया। मामला दर्ज होने में कथित देरी के मामले में पुलिस और राज्य सरकार की काफी आलोचना हो रही है। पुलिस दुष्कर्म करने के पांच आरोपियों एवं वीडियो को सोशल मीडिया पर डालने के एक आरोपी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here