VIDEO: ट्रांसलेटर की वजह से किरकिरी होने के बावजूद राहुल गांधी ने अमित शाह की तरह नहीं खोया आपा, सोशल मीडिया पर लोगों ने की धैर्य की तारीफ

0

क्या आपको याद हैं पिछले साल कर्नाटक विधानसभा चुनाव में प्रचार करते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था? जहां ट्रांसलेटर (अनुवादक) ने अमित शाह के भाषण का गलत ट्रांसलेशन किया था, जिसके बाद उनकी जमकर किरकिरी हुई थी।

वहीं, अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का भी एक ऐसा ही वीडियो सामने आया है, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। लेकिन ट्रांसलेटर के गलत ट्रांसलेशन के बावजूद भी राहुल गांधी ने अमित शाह की तरफ अपना आपा नहीं खोया जिसके लिए सोशल मीडिया पर उनकी जमकर तारीफ हो रही है।

राहुल गांधी

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान अमित शाह राज्य के चिकमंगलूर और श्रृंगेरी में दो चुनावी रैलियों को संबोधित कर रहें थे। इन दोनों जगहों पर ट्रांसलेटरों की वजह से अमित शाह को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा। भाषण के दौरान शाह अपने ट्रांसलेटर के साथ परेशान भी दिखे।

दरअसल, अमित शाह कुछ और बोल रहे थे जबकि ट्रांसलेटर अनुवाद कुछ और कर रहा था। इससे नाराज अमित शाह भाषण के बीच में ही कई बार ट्रांसलेट करने वाले शख्स पर नाराजगी व्यक्त करते हुए भी नजर आए। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने भी जमकर मजे लिए। इतना ही कई बार तो माइक्रोफोन ने भी काम करना बंद कर दिया था।

एक साल बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी उसी समान स्थिति में दिखे, जब उनके ट्रांसलेटर (अनुवादक) अंग्रेजी में कहा गया कुछ भी समझ नहीं पाए। बता दें कि, लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के चुनाव गुरुवार को होने जा रहे हैं और ऐसे में चुनाव प्रचार के लिए नेता लगातार जुटे हुए हैं। इसी बीच, राहुल गांधी मंगलवार को केरल के पथानामथिट्टा में पहुंचे जहां उन्होंने एक चुनावी रैली को संबोधित किया।

राहुल गांधी अंग्रेजी में भाषण दे रहे थे और उसे स्थानीय भाषा में ट्रांसलेट करने के लिए मंच पर एक ट्रांसलेटर मौजूद था। राहुल गांधी ने कहा मोदी कहते हैं कि आप मुझे प्रधानमंत्री नहीं चौकीदार बनाइये। लेकिन राहुल की यह बात ट्रांसलेटर नहीं समझ पाया, ऐसे में राहुल को दोबारा अपनी बात उनके करीब जाकर बताई। इसके बाद राहुल ने कहा मोदी देश की जनता के वोट पाकर अनिल अंबानी के चौकीदार बन गए। राहुल की यह बात भी ट्रांसलेटर नहीं समझ पाया, जिसके बाद राहुल ने एक बार फिर से करीब जाकर अपनी बात फिर से कही।

राहुल ने आगे कहा, 30 हजार करोड़ रुपये अनिल अंबानी को दे दिये गए। इस बार भी उनका ट्रांसलेटर ये बात समझ नहीं पाया। लेकिन इसके बावजूद भी उन्होंने अमित शाह की तरह अपना आपा नही खोया और अपने चेहरे पर मुस्कान रखी। जिसके लिए सोशल मीडिया पर उनकी जमकर प्रशंसा हो रही है।

राहुल गांधी के इस वीडियो को बीजेपी समर्थक मोहनदास पई सहित कई लोगों ने उन पर कटाक्ष करते हुए उनका यह वीडियो शेयर किया है। राहुल गांधी का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल रहा है। कई सोशल मीडिया यूजर्स ने राहुल गांधी पर तंज कस रहे है तो कई यूजर्स ने गांधी के मुस्कान के लिए उनकी प्रशंसा की।

पत्रकार मुकेश केजरीवाल ने लिखा, “यह वीडियो वाकई देखने लायक है। हंसने का मन करे तो हंस भी लीजिए। मगर फिर गौर कीजिए राहुल गांधी के पेशेंस पर। चेहरे पर शिकन भी नहीं। एक बुजुर्ग नेता का अपमान नहीं होने दिया…।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “सर अभी तक गोभी जी या तड़ीपार जी होते तो ट्रांसलेटर ज़मीन में धँसा दिखाई देता भक्त उसको स्टेज के पीछे ले जाकर गले तक ज़मीन में गाड़ देते पर वो राहुल गाँधी है देख रहे हो कितनी शालीनता से हँसी में ले रहे हैं।”

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here