त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड नतीजों के दो दिन बाद राहुल गांधी ने तोड़ी चुप्‍पी, जानिए क्या कहा?

0

त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के दो दिन बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का बयान सामने आया है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस पार्टी त्रिपुरा, नगालैंड और मेघायल के लोगों के जनादेश का सम्‍मान करती है।

राहुल गांधी
फाइल फोटो: @OfficeOfRG

कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार(5 मार्च) को ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘कांग्रेस पार्टी त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड की जनता के फैसले का सम्मान करती है। हम नॉर्थ ईस्ट में अपनी पार्टी को मजबूत करने और फिर से जनता का विश्वास हासिल करने के लिए काम करते रहेंगे। मैं पूरी गंभीरता से कांग्रेस पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं का दिल से शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने पार्टी के लिए लगातार काम किया।’

वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने आज ट़वीट कर कहा कि, ‘त्रिपुरा, नगालैंड, मेघालय के लोगों को हमारी शुभकामनाएंय़’ उन्होंने कहा, ‘ हम गंभीरता से यह उम्मीद और प्रार्थना करते हैं कि नई सरकारें शांति, प्रगति, साथ मिल-जुलकर रहने और विकास के एजेंडे को आगे बढायेंए।’

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि, ‘हम यह भी उम्मीद करते हैं कि लोगों विशेषकर युवाओं के मुद़्दों पर प्राथमिकता के साथ ध्यान दिया जाएगा’ उन्होंने कहा, ‘प्रत्येक भारतीय, बीजेपी द्वारा किसी भी कीमत पर और किसी भी माध्यम से सत्ता हथियाये जाने को लेकर चिंतित है और क्या इसके कारण समूचे पूर्वोत्तर क्षेत्र को अस्थिरता में नहीं ढकेल जा रहा है?’

बता दें कि, आज सुबह उन्होंने एक साथ कई सारे ट्वीट कर अपने विचार व्यक्त किए है।

बता दें कि, त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय में शनिवार(3 मार्च) को विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद पूर्वोत्तर में भगवा का वर्चस्व कायम हो गया। भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) ने त्रिपुरा में 25 साल से सत्ता पर काबिज वाम दलों के लाल गढ़ को ध्वस्त करने में कामयाबी हासिल की है।

वहीं, दूसरी ओर मेघालय में भी एनडीए की सरकार बनने जा रहीं है। 21 सीटें जीतकर भी कांग्रेस सत्ता से दूर रह गई और महज दो विधायकों के साथ भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) सरकार में शामिल होने जा रही है। राज्य में नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) के नेतृत्व वाली सरकार में यूडीपी, बीजेपी और एचएसपीडीपी भी शामिल होगी।

गौरतलब है कि त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड में कांग्रेस का प्रदर्शन बहुत ही खराब रहा। कांग्रेस, मेघालय में सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी लेकिन सरकार बनाने में असफल रही। बता दें कि, मेघालय में इससे पहले कांग्रेस पार्टी की सरकार थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here