राफेल सौदे को लेकर नए खुलासे के बाद राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, पीएम मोदी को बताया 'भ्रष्ट'

0

राफेल सौदे को लेकर मोदी सरकार के फैसले पर उठाए जा रहे सवालों के बीच एक और सनसनीखेज खुलासे में ये बात साबित हो गई है कि राफेल सौदे के लिए उद्योगपति अनिल अंबानी के साथ समझौते को अनिवार्य किया गया था। इस बात का खुलासा फ्रांस की खोजी खबरों की वेबसाइट ‘मीडियापार्ट’ ने किया है। ‘मीडियापार्ट’ वेबसाइट ने अपने हाथ लगे दसॉल्ट के एक दस्तावेज के हवाले से दावा किया है कि राफेल सौदे के बदले दसॉल्ट को रिलायंस से डील करने को कहा गया। आपको बता दें कि 59 हजार करोड़ रुपये के 36 राफेल लड़ाकू विमान के सौदे में रिलायंस दसॉ की मुख्य ऑफसेट पार्टनर है।

@INCIndia

ताजा रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दसॉ ने अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस से गठजोड़ दिखाकर राफेल सौदा हासिल किया था। रिपोर्ट में ये भी दावा किया गया है कि फ्रेंच कंपनी दसॉ के सामने अनिल अंबानी के कंपनी रिलायंस के साथ राफेल सौदा करने की शर्त रखी गई थी और इसके अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं दिया गया था। राफेल सौदे को हासिल करने के लिए दसॉ को अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस से गठजोड़ दिखाना पड़ा था।
आपको बता दें कि मीडियापार्ट ने ही पूर्व फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के भी उस दावे को प्रकाशित किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि राफेल सौदे के लिए भारत सरकार ने ही अनिल अंबानी की रिलायंस का नाम प्रस्तावित किया था और दसॉ एविएशन कंपनी के पास कोई दूसरा विकल्प नहीं था। जिसके बाद से राफेल डील को लेकर भारत में राजनीतिक विवाद भी खड़ा हो गया है।
राहुल गांधी ने पीएम मोदी को बताया ‘भ्रष्ट’
इस नए खुलासे के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार (11 अक्टूबर) को प्रेस कॉन्फेंस कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला किया। राहुल गांधी ने पीएम मोदी को ‘भ्रष्ट’ करार देते हुए मामले में जांच की मांग की। उन्होंने कहा कि मैं देश के युवाओं से कहना चाहता हूं कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री भ्रष्ट हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अनिल अंबानी जी 45 हजार करोड़ रुपये के कर्जे में हैं। 10 दिन पहले कंपनी खोली और प्रधानमंत्री जी ने 30 हजार करोड़ रुपया हिन्दुस्तान की जनता का पैसा, एयरफोर्स का पैसा अनिल अंबानी की जेब में डाल दिया।

  • राहुल गांधी ने कहा कि हम सिर्फ यह कह रहे हैं कि राफेल मामले में साफ तौर पर प्रधानमंत्री ने भ्रष्टाचार किया है, इस पर जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री अचानक फ्रांस स्थित राफेल प्लांट क्यों गईं? क्या इमर्जेंसी है?
  • अनिल अंबानी जी 45 हजार करोड़ रुपये के कर्जे में हैं। 10 दिन पहले कंपनी खोली और प्रधानमंत्री जी ने 30 हजार करोड़ रुपया हिन्दुस्तान की जनता का पैसा, एयरफोर्स का पैसा अनिल अंबानी की जेब में डाल दिया: राहुल गांधी
  • नरेंद्र मोदी जी ने हिंदुस्तान की जनता का पैसा और हिंदुस्तान की एयरफोर्स का पैसा अनिल अंबानी की जेब में डाला है: राहुल गांधी
  • मैं देश के युवाओं से कहना चाहता हूं कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री भ्रष्ट हैं: राहुल गांधी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here