पांच देशों से हैकरों ने राहुल गांधी, कांग्रेस के ट्विटर हैंडल को किया था संचालित

0

दिल्ली पुलिस ने बुधवार को कहा कि हाल ही में हैक किए गए राहुल गांधी और कांग्रेस के ट्विटर ‘हैंडल’ को अमेरिका सहित पांच देशों से संचालित किया गया था।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामले की जांच कर रही आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) को ट्विटर मुख्यालय से करीब तीन-चार दिन पहले उन इंटरनेट प्रोटोकॉल (आईपी) पतों पर जवाब मिला था, जिनका इस्तेमाल हैकरों ने इन अकाउंट से अपमानजनक ट्वीट करने में किया था।

राहुल गांधी

अधिकारी ने बताया, ‘हमें पता चला कि जिन आईपी पतों से अकाउंट तक पहुंचा गया था वे हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं आते हैं। ट्विटर हैंडल लॉग से जाहिर होता है कि दोनों अकाउंट पांच देशों.. स्वीडन, रोमानिया, अमेरिका, कनाडा, थाईलैंड से संचालित किए गए. हम इन देशों के इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को पत्र लिखेंगे कि इन्हें इस्तेमाल करने वालों का ब्योरा हमसे साझा किया जाए और ताकि जांच आगे बढ़ सके।

अधिकारी ने बताया कि डेटा के विश्लेषण से जाहिर होता है कि इन देशों से 30 नवंबर को रात सवा नौ बजे से रात साढ़े नौ बजे तक और एक दिसंबर को सुबह साढ़े 10 बजे से अकाउंट में सेंध लगाई गई।

सूत्रों ने बताया कि यदि पुलिस को आवश्यक ब्योरा नहीं मिला तो वे सहायता के लिए इन देशों में सक्षम अदालतों को अनुरोध पत्र भेजने की प्रक्रिया शुरू करेंगे। अधिकारी के मुताबिक पुलिस को कांग्रेस के सर्वर से पार्टी की वेबसाइट का लॉग ब्योरा मिलना अभी बाकी है।

भाषा की खबर के अनुसार, कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला से ईओडब्ल्यू को दो शिकायतें मिलने के बाद दो ट्विटर अकाउंट हैक किए जाने के सिलसिले में पुलिस ने दो प्राथमीकियां दर्ज की थी।

राहुल का ट्विटर अकाउंट 30 नवंबर को हैक किया गया था और कुछ आपत्तिजनक टिप्पणी पोस्ट की गई थी. पार्टी ने दावा किया था कि एक दिसंबर को उनका ईमेल अकाउंट भी हैक कर लिया गया. पुलिस के मुताबिक दोनों मामले आईटी अधिनियम की धारा 66 के तहत दर्ज हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here