ट्रोलर्स को करारा जवाब देने के बाद ए आर रहमान ने फिर शेयर की बेटी की हिजाब वाली तस्वीर

0

ऑस्कर और ग्रैमी जैसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड से सम्मानित मशहूर संगीतकार ए आर रहमान ने हाल ही में सोशल मीडिया पर अपनी बेटी खतीजा की नकाब पहने एक तस्वीर शेयर की थी, जिसे लेकर यूजर्स ने ए आर रहमान को जमकर ट्रोल किया था। इसके बाद ट्रोलर्स को जवाब देते हुए संगीतकार ने कहा था कि उसे अपनी पसंद की पोशाक चुनने अधिकार है। वहीं, रहमान की बेटी खतीजा ने भी इस मुद्दे पर चुप रहने की बजाए ट्रोलर्स को मुंहतोड़ जवाब दिया था।

ए आर रहमान

ट्रोलर्स को जवाब देने के कुछ दिनों बाद संगीतकार ए आर रहमान ने एक बार फिर से अपने बच्चों की एक और तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है। ए आर रहमान के बच्चों ने ‘हैलो मैगजीन’ के लिए फोटोशूट करवाया है। इस फोटो में उनकी बेटियां रहीमा और खतीजा और बेटा अमीन नजर आ रहा है। रहमान ने जो तस्वीर शेयर की है उसमें भी खतीजा का चेहरा हिजाब से ढका हुआ है।

View this post on Instagram

Raheema ,Khatija and Ameen posing for Hello magazine 😊

A post shared by @ arrahman on

बता दें कि हाल ही में 51 वर्षीय रहमान ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की थी जिसमें उनकी पत्नी और बेटी रहीमा बिना नकाब पहने दिखाई दे रही हैं जबकि खतीजा का चेहरा नकाब से ढका हुआ है। तस्वीर में वह नीता अंबानी के साथ खड़ी हैं। इस तस्वीर को शेयर करते हुए रहमान ने लिखा था, ”मेरे परिवार की अनमोल महिलाएं खतीजा, रहीमा और सायरा नीता अंबानी जी के साथ।” इसके साथ ही उन्होंने हैशटैग डाला #freedomtochoose यानी चुनने की आज़ादी।

रहमान के तस्वीर डालते ही सोशल मीडिया यूजर्स मे उस पर अपनी प्रतिक्रियाएं देनी शुरू कर दी, लोगों ने उन्हें ट्रोल भी किया। हालांकि, कई यूजर्स ने उनका समर्थन भी किया। ट्रोलर्स ने रहमान के ऊपर अपनी बेटी को जबरदस्ती नकाब पहनने का दबाव डालने का आरोप लगाया था।

रहमान ने अपनी बेटी के नकाब पहनने पर सोशल मीडिया पर हो रही आलोचना का जवाब भी दिया था। रहमान ने कहा था कि उसे अपनी पसंद की पोशाक चुनने अधिकार है। वहीं, रहमान की बेटी खतीजा ने भी इस मुद्दे पर चुप रहने की बजाए ट्रोलर्स को इसका मुंहतोड़ जवाब दिया था।

खतीजा ने इस बारे में फेसबुक पर लिखा, ”मुझे लेकर मेरे पिता के साथ काफी चर्चाएं हो रही हैं। हालांकि, मैंने इतनी ज़्यादा प्रतिक्रिया की उम्मीद नहीं की थी। हालांकि, कुछ कमेंट में कहा गया है कि मेरे कपड़े मेरे पिता द्वारा मुझ पर थोपे हुए हैं और वो दोहरे मानदंड अपनाते हैं। मैं ये कहना चाहूंगी कि मेरी ज़िंदगी में मैं जो कपड़े पहनती हूं या चुनती हैं उसका मेरे माता-पिता से कोई लेना-देना नहीं है। घूंघट पूरी स्वीकृति और सम्मान के साथ मेरी व्यक्तिगत पसंद रहा है। हर एक इंसान को अपनी पसंद के कपड़े चुनने या जो करना चाहे वो करने का अधिकार है और मैं यही कर रही हूं। इसलिए, कृप्या सटीक स्थिति को समझे बिना अपने नतीजे न निकालें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here