पुण्य प्रसून बाजपेयी ने बिहार चुनाव में JDU के कमजोर होने को लेकर नीतीश कुमार पर साधा निशाना

0

बिहार विधानसभा चुनावों में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को बहुमत मिलने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स भी तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। कई यूजर्स भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तारीफ करते हुए नीतीश कुमार के विधानसभा चुनाव में कमजोर होने पर सवाल उठा रहे हैं। इस बीच, वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने भी अपने ट्वीट में जनता दल यूनाइटिड (जदयू) के कमजोर होने और भाजपा के मजबूत होने को लेकर नीतीश कुमार पर निशाना साधा है।

पुण्य प्रसून बाजपेयी

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने बुधवार को अपने ट्वीट में लिखा, “कभी मगध ने भारत को राह दिखायी, तब पाटलिपुत्र जगमग हुआ, अब मगध नरेश दिल्ली पर निर्भर है, तो जश्न दिल्ली में…।” वरिष्ठ पत्रकार का यह ट्वीट अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, उनके इस ट्वीट पर यूजर्स भी जमकर अपनी प्रतिक्रियाएँ दे रहे हैं।

एक यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा, “सब EVM का खेल है क्योंकि विपक्ष EVM के खिलाफ एकजुट होने और EVM का बहिष्कार करने में फेल है। बैलेट पेपर से अभी चुनाव हों मोदी बीजेपी सब हवा हो जाय। विपक्ष बिखरा है और Evm का बहिष्कार करने से डरता है। एकबार Evm का सामूहिक बहिष्कार कर चुनाव का बहिष्कार कर दे बैलेट पेपर से सच सामने।” एक अन्य यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा, “बिहार में सीएम और पीएम फैक्टर नहीं, डीएम फैक्टर चला। कंट्रोल रूम में बैठकर ऊपरी आदेशों का अच्छे से पालन किया गया, इस छल-प्रपंच को बिहार की जनता भूलेगी नहीं।”

एक अन्य यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा, “जश्न की भी बेशर्मी है। सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी है। जश्न ये मना रहे है। पर इतनी नाकामियों के बाद कुछ मिला है उसे ही सेलब्रेट कर ले।” एक अन्य यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा, “नरेश पागल है वरना जश्न आरजेडी और लेफ्ट के साथ शुरू कर देना चाहिए।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स पुण्य प्रसून बाजपेयी के ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रियाएँ दे रहे हैं।

बिहार विधानसभा चुनावों के नतीजों के बाद सीएम नीतीश कुमार की पहली प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होंने जनता को नमन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सहयोग के लिए धन्यवाद दिया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा गया, “जनता मालिक है। उन्होंने राजग को जो बहुमत प्रदान किया, उसके लिए जनता-जनार्दन को नमन है। मैं पीएम नरेंद्र मोदी जी को उनसे मिल रहे सहयोग के लिए धन्यवाद करता हूं।”

243 सदस्यों वाली बिहार विधान सभा के चुनाव नतीजों में 75 सीटों के साथ राजद सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है, जबकि 74 सीटों के साथ भाजपा दूसरे नंबर पर रही है। नीतीश कुमार की पार्टी 43 सीटों के साथ तीसरे नंबर पर है। सत्तारूढ़ गठबंधन एनडीए को 125 सीटों के साथ बहुमत हासिल हुआ है। वहीं, विपक्षी महागठबंधन 110 सीटें जीतने में कामयाब रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here