वरिष्ठ वैज्ञानिक ने अपनी महिला कुक पर लगाया जाति छुपाने का आरोप, FIR दर्ज

0

महाराष्ट्र के पुणे में डॉ. मेधा विनायक खोले नाम की एक वरिष्ठ सरकारी वैज्ञानिक ने अपनी महिला कुक पर धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है। मेधा का कहना है कि उनकी कुक ने उनसे अपनी असली जाति छिपाई और जब उससे उनकी असली जाति जाननी चाही तो उन्होंने उनके साथ दुर्व्यवहार किया। बता दें कि, मेघा खोले नामक भारतीय मौसम विभाग (IMD) में बड़े पद पर हैं।

वैज्ञानिक
photo- Free Press Journal

मेधा का कहना है कि, उन्हें एक ब्राह्मण कुक की जरूरत थी और कुक ने खुद को निर्मला कुलकर्णी बताया था, वो 2016 से उनके घर में हर स्पेशल मौके पर खाना बनाने के लिए आती थीं। मगर हाल ही में गणेश उत्सव के वक्त उन्हें पुजारी ने बताया कि वो कुक तो ब्राह्मण नहीं है।

जिसके बाद वो निर्मला के घर गईं और पता किया कि वो किस जाति की हैं, पता चला कि निर्मला असल में यादव हैं और विधवा हैं। इसलिए नौकरी पाने के लिए उन्होंने खुद को ब्राह्मण बताया था, मेधा ने धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने और धोखाधड़ी करने का केस दर्ज करवाया है। पुलिस ने निर्मला के खिलाफ भारतीय दंड संहिता(आईपीसी) की कई धाराऔं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

पुणे पुलिस ने आईपीसी सेक्शन 419 और आईपीसी 352 और आईपीसी 504 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुणे स्थित आईएमडी में डेप्युटी डायरेक्टर(वेदर फॉरकास्टिंग) मेघा ने अपनी शिकायत में कहा है कि निर्मला के इस झूठ से उसकी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here