कोरोना लॉकडाउन: ट्विटर पर मिलने की प्लानिंग कर रहे थे दो दोस्त, पुणे पुलिस ने ऐसे दी चेतावनी, ट्वीट वायरल

0

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया है। सरकार ने लॉकडाउन के नियमों को कड़ाई से लागू करने की बात कही है। इसके बावजूद लोग घरों में रहने और लॉकडाउन के नियम को मानने को तैयार नहीं है। इस बीच, ट्विटर पर मिलने की प्लानिंग कर रहे दो दोस्तों को पुणे पुलिस ने बेहद मजेदार ढंग से जवाब दिया। पुणे पुलिस का यह जवाब अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

पुणे पुलिस
फाइल फोटो

दरअसल, पुणे के रहने वाले दो दोस्तों ने लॉकडाउन खत्म होने के बाद मिलने का प्लान बनाया था। पुणे के रहने वाले पार्थ और जग्गू नाम के यूजर ने लॉकडाउन के बाद मिलने का सोचा था लेकिन लॉकडाउन 2.0 लागू होने की खबर सुनते ही उन्होंने ट्विटर पर कुछ इस अंदाज में अपना रिएक्शन दिया।

जग्गू ने पार्थ से पूछा कि ‘क्या अब हम लोग मिल सकते हैं? तो पार्थ ने जवाब दिया 3 मई तक तो नहीं हो पाएगा। इंद्ररजीत ने कहा कि उससे पहले भी मिल सकते हैं? तो इस पर पार्थ ने कहा कि नहीं हो पाएगा। दोस्तों के इन बातचीत के बीच पुणे पुलिस ने भी अपना रिएक्शन देते हुए एक ट्वीट किया।

पुणे पुलिस ने ट्विटर पर लिखा, ‘हम भी आपके प्लान में शामिल होना चाहते हैं? और आपको विश्वास दिलाते हैं कि हम आपका साथ लंबे समय तक देंगे।’ आगे उन्होंने मराठी में लिखा ‘तुमी सांगा फेक कुत्थे की कढ़ी’।

पुणे पुलिस का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। पुणे पुलिस के इस शानदार जवाब की लोग जमकर तारीफ कर रहे है। बता दें कि, कोरोना वायरस के कहर को रोकने के लिए 21 दिनों के लॉकडाउन को बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया गया है।

बता दें कि, इससे पहले अभी हाल ही में सुहास पाटिल नाम के शख्स ने पुणे पुलिस को ट्विटर पर टैग करते हुए लिखा, ‘अगर मैं बाहर निकला तो…?’ यूजर के इस ट्वीट पर पुणे पुलिस रिप्लाई करते हुए लिखा था, ‘अगर हम आपको अंदर कर दें तो? अगर हम बिना बात के किसी को अंदर कर दें तो क्या सही होगा? तो फिर बिना बात के बाहर जाना कैसे सही है?’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here