जामिया में छात्रों पर पुलिसिया कार्रवाई को लेकर प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, बोलीं- “यह सरकर कायर है, जनता की आवाज़ से डरती है”

0

नागरिकता संशोधन कानून का विरोध दिल्ली में उस समय हिंसक हो गया जब जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के पास प्रदर्शनकारियों ने 3 बसों के साथ कई गाड़ियों में आग लगा दी। इस दौरान प्रदर्शनकारियों और दिल्ली पुलिस के बीच जमकर झड़प भी हुई। पुलिस के साथ संघर्ष के दौरान उन्होंने दक्षिण पूर्व दिल्ली के न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी एवं मथुरा रोड पर डीटीसी की कई बसों, एक कार और एक अग्निशमन गाड़ी में आग लगा दी। संघर्ष के कारण इलाके में यातायात बाधित हो गया और सड़कों पर वाहन कई घंटे तक फंसे रहे। विरोध पर पुलिस कार्रवाई पर विपक्ष सरकार को जमकर कोसने में लगा है।

प्रियंका गांधी

इस बीच, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। प्रियंका गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, “देश के विश्वविद्यालयों में घुस घुसकर विद्यार्थियों को पीटा जा रहा है। जिस समय सरकार को आगे बढ़कर लोगों की बात सुननी चाहिए, उस समय भाजपा सरकार उत्तर पूर्व, उत्तर प्रदेश, दिल्ली में विद्यार्थियों और पत्रकारों पर दमन के जरिए अपनी मौजूदगी दर्ज करा रही है। यह सरकर कायर है।”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, “जनता की आवाज़ से डरती है। इस देश के नौजवानों, उनके साहस और उनकी हिम्मत को अपनी खोखली तानाशाही से दबाना चाहती है। यह भारतीय युवा हैं, सुन लीजिए मोदी जी, यह दबेगा नहीं, इसकी आवाज़ आपको आज नहीं तो कल सुननी ही पड़ेगी।”

वहीं, सीनियर कांग्रेस नेता रंदीप सिंह सुरजेवाला ने अपने ट्वीट में लिखा, “दिल्ली जल रही है, असम, त्रिपुरा, मेघालय जल रहा है, बंगाल में हिंसा फैली है, गृह मंत्री को उत्तरपूर्व जाने की हिम्मत नही, जापान के PM का दौरा रद्द करना पड़ा, पर मोदी जी झारखंड में चुनाव प्रचार में मगन हैं। जो विरोध करे वो देशद्रोही करार। जामिया इसका ताज़ा उदाहरण है।”

बता दें कि, इससे पहले रविवार को कांग्रेस ने सरकार पर देश में शांति बनाए रखने के अपने कर्तव्य को निभाने में नाकाम रहने और असम, त्रिपुरा और मेघालय के बाद दिल्ली तक को जलने के लिए छोड़ देने का आरोप लगाया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के. सी. वेणुगोपाल ने जामिया के छात्रों पर ”बर्बर कार्रवाई” की निंदा करते हुए ”संयम” बरतने की अपील की।

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक टि्वटर अकाउंट पर कहा, ‘‘पूर्वोत्तर से लेकर असम, पश्चिम बंगाल और अब दिल्ली में, भाजपा सरकार देश में शांति बनाए रखने का अपना कर्तव्य निभाने में विफल रही। उसे जिम्मेदारी लेनी चाहिए और हमारे देश में शांति बहाल करनी चाहिए।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here