VIDEO: प्रियंका गांधी बोलीं- प्रवासी मजदूर भारत की रीढ़ हैं, इनकी मदद करना हम सबकी जिम्मेदारी, ये राजनीति करने का समय नहीं

0

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार (20 मई) को सोशल प्लेटफॉर्म्स पर लाइव आकर प्रवासी मजदूरों की बस द्वारा अवाजाही के प्रकरण और मजदूरों के मुद्दे पर अपनी बात रखी। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कहा कि यह राजनीति का समय नहीं है। सभी राजनीतिक दलों को एक साथ आकर प्रवासी मजदूरों की मदद करने का समय है।

प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि, “हम सबको अब अपनी जिम्मेदारी समझनी पड़ेगी। ये भारत के वो लोग हैं जो भारत की रीढ़ हैं जिनके खून और पसीने से ये देश चलता है। अपने राजनीतिक स्वार्थ से परहेज कर हर किसी को सकारात्मक भाव से सेवाभाव से लोगों की मदद में शामिल होना चाहिए। यह राजनीति करने का समय नहीं है। यह समय प्रवासी मजदूरों की मदद करने का समय है। यूपी कांग्रेस ने मदद की भावना वॉलंटियर्स तैयार किए, जिसको हमने “कांग्रेस के सिपाही” नाम दिए। यह लोग अलग-अलग हिस्सों में तमाम लोगों की मदद कर रहे हैं। हमने हर जिले में हेल्पलाइन नम्बर जारी किए। इसके अलावा हमने “सांझी रसोइयां” खोलीं, हाइवे टास्क फोर्स बनाए। हमने अब तक 67 लाख लोगों की मदद की हैं, इनमें से 60 लाख लोग यूपी में और 7 लाख बाहर फंसे हुए थे।”

कांग्रेस महासचिव ने आगे कहा, “इसी भाव से हमने सीएम योगी जी को सुझाव दिए थे। कुछ समय से हम कर रहे थे कि जो यूपी रोडवेज की बसें हैं, उन्हें प्रवासी भाई-बहनों के लिए उपलब्ध कराइए। जब एक दिन कई हादसे हुए तो हमने देखा कि यूपी रोडवेज बसें तब भी सक्रिय नहीं हुईं। ऐसे में हमने सुझाव दिए कि हम 1000 बसें मुहैया कराएंगे। अगले दिन यूपी के सीएम ने कहा कि यूपी रोडवेज की 12000 बसें हैं, उनसे हम प्रवासी मजदूरों को भेज देंगे। इसके अगले दिन उनका एक पत्र मिला कि बसों का डिटेल भेज दीजिए, जिन बसों से मजदूरों को भेजने का कांग्रेस ने प्रस्ताव दिया है। इसके बाद आधी रात को कहा गया कि बसों को लखनऊ में बसों को भेज दीजिए।”

प्रियंका गांधी ने आगे कहा, “इन सभी घटनाक्रमों के बाद उनकी की तरफ से एक नई राजनीति शुरू की गई। कल हमने 900 बसें राजस्थान, यूपी और गाजियाबाद बॉर्डर पर उपलब्ध कराईं। अगर यह बसें चली होतीं तो आज हजारों प्रवासी मजदूर अपने घर पहुंच गए होते। कल 4 बजे से हमारी बसें बॉर्डर पर खड़ी रहीं, आज भी बसें खड़ी हैं। आज 4 बजे 24 घंटा हो जाएगा इन बसों को खड़े हुए। अगर वह चाहते हैं कि इन बसों पर बीजेपी के झंडे लगे तो वह लगा सकते हैं। हमें इससे को गुरेज नहीं है। बसें आज चार बजे तक खड़ी रहेंगी, बसों को वह चलने की इजाजत दें। अगर नहीं देते हैं तो हम बसों को वापस भेज देंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here