“आख़िर हर बार हर विपत्ति गरीबों और मजदूरों पर ही क्यों टूटती है, मोदी जी भगवान के लिए इनकी मदद कीजिए”, प्रियंका गांधी का प्रवासियों की दुर्दशा को लेकर सरकार पर हमला

0

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों की दुर्दशा और खराब स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर प्रहार किया। उन्होंने मंगलवार को मुंबई के बांद्रा में प्रवासियों के खिलाफ हुए बल प्रयोग पर भी नाखुशी जताई। उन्होंने सवाल उठाया कि लॉकडाउन होने पर रेलवे टिकट क्यों बुक किए जा रहे थे?

प्रियंका गांधी
फाइल फोटो

प्रियंका गांधी ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा, “आख़िर हर बार हर विपत्ति गरीबों और मजदूरों पर ही क्यों टूटती है? उनकी स्थिति को ध्यान में रखकर फैसले क्यों नहीं लिए जाते? उन्हें भगवान भरोसे क्यों छोड़ दिया जाता है? लॉकडाउन के दौरान रेलवे टिकटों की बुकिंग क्यों जारी थी? स्पेशल ट्रेनों का इंतजाम क्यों नहीं किया गया?”

उन्होंने आगे कहा, “उनके पैसे खत्म हो रहे हैं, स्टॉक का राशन खत्म हो रहा है, वे असुरक्षित महसूस कर रहे हैं- घर गाँव जाना चाहते हैं। इसकी व्यवस्था होनी चाहिए थी। अभी भी सही प्लानिंग के साथ इनकी मदद की व्यवस्था की जा सकती है। मजदूर इस देश की रीढ़ की हड्डी हैं। मोदी जी भगवान के लिए इनकी मदद कीजिए।”

कांग्रेस ने मजदूरों पर बल का उपयोग किए जाने की भी आलोचना की और करुणा की अपील करते हुए कहा कि ऐसा दमन अक्षम्य है। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्रियों और प्रशासन से आग्रह किया कि वे उन्हें उनकी गरिमा और अधिकार वापस दिलाएं। उन्होंने कहा, “उन्हें रोटी दें, लाठियां न दें, यह दमन मानवता के खिलाफ अक्षम्य अपराध है।”

आनंद शर्मा ने कहा, “प्रवासी मजदूरों और श्रमिकों की ऐसी दुर्दशा दिल दहलाने वाली है- भूख से मर रहे उनके बच्चे, भूखे पुरुष और महिलाएं भोजन और राहत की प्रतीक्षा में हैं।” मुंबई पुलिस ने मंगलवार को उस समय हल्के लाठीचार्ज का सहारा लिया जब मुंबई के बांद्रा में लोगों ने नियंत्रण से बाहर जाने की धमकी दी। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here