क्या ‘उपवास’ के दिन PM मोदी ने किया ब्रेकफास्ट और लंच? कांग्रेस ने कार्यक्रम का स्क्रीनशॉट ट्वीट कर उठाए सवाल

0

संसद में बजट सत्र की कार्यवाही में गतिरोध पैदा करने के कांग्रेस और अन्य दलों के रवैये का विरोध करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार (12 अप्रैल) को राष्ट्रव्यापी ‘लोकतंत्र बचाव’ उपवास की अगुवाई कर रहे हैं। सुबह 10 बजे से शुरू हुआ यह उपवास शाम पांच बजे तक चलेगा। प्रधानमंत्री समेत बीजेपी के तमाम मंत्री और सांसद देश के अलग-अलग शहरों में उपवास पर बैठ रहे हैं। इसके अलावा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कर्नाटक के हुबली में उपवास और धरने पर बैठे हैं।

reuters

हालांकि उपवास पर रहते हुए पीएम मोदी अपना सामान्य कामकाज निपटा रहे हैं। प्रधानमंत्री इस उपवास के दौरान ही चेन्नई में 10वें डिफेंस एक्पो का उद्घाटन किया। इसके बाद प्रधानमंत्री चेन्नई के अडयार में कैंसर संस्थान का दौरा भी करेंगे। बीजेपी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि संसद का पूरा बजट सत्र जिसमें आम आदमी के हितों से जुड़े महत्वपूर्ण मसलों पर विचार विमर्श किया जाना था, वह कांग्रेस की गतिविधियों की वजह से पूरी तरह बाधित हुआ है।’

कांग्रेस ने PM मोदी के उपवास पर उठाए सवाल

इस बीच कांग्रेस ने इस उपवास को लेकर प्रतिक्रिया करते हुए कहा है कि यह कुछ नहीं बल्कि फोटो खिंचवाने और ड्रामा करने का मौका है। यह समय प्रधानमंत्री के उपवास पर बैठने का नहीं बल्कि उनके रिटायरमेंट का है यदि अभी नहीं तो 2019 के बाद उन्हें रिटायर होना ही है। इस बीच कांग्रेस ने पीएम मोदी के कार्यक्रम का एक स्क्रीनशॉट ट्वीट कर आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री ने सुबह का नाश्ता और दोपहर में भोजन किया है। कांग्रेस प्रवक्ता व मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तमिलनाडु दौरे का कार्यक्रम ट्वीट किया है, जिसमें ब्रेकफास्ट और लंच का प्रोग्राम दर्ज है। सुरजेवाला ने जो ट्वीट किया है उसके मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी के तमिलनाडु दौरे के दौरान हवाई जहाज में ब्रेकफास्ट का प्रोग्राम दर्ज है। इसके अलावा दोपहर चेन्नई एयरपोर्ट से उड़ान भरने के बाद ऑन बोर्ड लंच का प्रोग्राम दर्ज है।

कार्यक्रम की सूची पर अंडर सेक्रेटरी पुष्पेंद्र कुमार शर्मा के हस्ताक्षर भी दर्ज हैं। हालांकि इस रिलीज पर 6 अप्रैल 2016 की तारीख दर्ज है। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला इस प्रोग्राम को नीले रंग की स्याही से मार्क करते हुए लिखा है कि, ‘प्रधानमंत्रीजी, उपवास की शुभकामनाएं। अब कह भी दीजिए कि ये झूठ है।’

हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीएम मोदी का यह प्रोग्राम आज होने वाले उपवास कार्यक्रम से पहले ही तैयार हो चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक जब प्रधानमंत्री के यात्रा कार्यक्रम तैयार हुआ था उस वक्त उपवास की घोषणा नहीं की गई थी। बता दें कि इससे पहले कांग्रेस ने 9 अप्रैल को दलितों के विरोध को समर्थन देने के लिए और “सांप्रदायिक सौहार्द की रक्षा और सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए” सांकेतिक उपवास दिवस मनाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here