प्रवीण तोगड़िया की गिरफ्तारी की खबर पर VHP कार्यकर्ताओं का हंगामा

0

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया की कथित गिरफ्तारी की खबर अफवाह साबित हुई है। दरअसल, सोमवार (15 जनवरी) को सोशल मीडिया पर किसी ने यह अफवाह फैला दी की गुजरात में राजस्थान पुलिस द्वारा तोगड़िया को गिरफ्तार कर लिया गया है। लेकिन गिरफ्तारी की यह खबर अफवाह साबित हुई है।हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तोगड़िया कहां हैं यह अभी भी पता नहीं चल पा रहा है।

File Photo: The Indian Express

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, राजस्थान पुलिस प्रवीण तोगड़िया को धारा 144 के अंतर्गत 10 वर्ष पुराने एक मामले में गिरफ्तार करने सोमवार सुबह गुजरात पहुंची। इस बात की जानकारी राजस्थान पुलिस ने गुजरात की लोकल पुलिस स्टेशन (सोला पुलिस स्टेशन) को दी।

न्यूज 18 के मुताबिक, अहमदाबाद के सोला पुलिस थाने के अधिकारी ने दावा किया है कि तोगड़िया को गिरफ्तार करने के लिए राजस्थान की गंगानगर पुलिस, सोला पुलिस को वारंट देकर गई थी, लेकिन पुलिस की दबिश के दौरान तोगड़िया घर पर नहीं मिले। पुलिस अधिकारी ने गिरफ्तारी की खबर को गलत बताया है।

इसके बाद सोमवार सुबह से ही सोशल मीडिया पर तोगड़िया की गिरफ्तारी की अफवाहें चल रही थीं। ऐसे में विश्‍व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता बड़ी संख्‍या में थाने के बाहर पहुंच गए और गिरफ्तारी का विरोध कर हंगामा करने लगे। लेकिन न्यूज 18 के मुताबिक पुलिस अधिकारी ने बताया कि उनकी गिरफ्तारी नहीं हुई है।

न्यूज 18 के मुताबिक तोगड़िया की कथित गिरफ्तारी की खबर मिलने के बाद विश्‍व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने अहमदाबाद में सरदार पटेल रिंग रोड पर चक्‍का जाम कर दिया। इसके चलते हाइवे पर जाम लग गया। वीएचपी कार्यकर्ताओं के मुताबिक तोगड़िया सुबह से ही लापता हैं।

Rifat Jawaid on the revolt by Supreme Court judges

Posted by Janta Ka Reporter on Friday, 12 January 2018

दरअसल, आज तक की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान पुलिस को एक पुराने केस के सिलसिले में तोगड़िया की तलाश थी। रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान पुलिस सोमवार को प्रवीण तोगड़िया को विश्व हिंदू परिषद के दफ्तर से अपने साथ ले गई थी। हालांकि राजस्थान पुलिस के डीजीपी ओपी गलहोत्रा ने कहा है कि तोगड़िया की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

दरअसल, आज तक के मुताबिक राजस्थान के गंगापुर शहर में प्रवीण तोगड़िया के खिलाफ केस दर्ज हुआ था। इसमें तोगड़िया को कोर्ट के सामने पेश होना था, लेकिन उनकी पेशी नहीं हुई थी। इसके बाद कोर्ट ने तोगड़िया के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था।

VHP प्रवक्ता ने किया गिरफ्तारी का दावा

वहीं नवभारत टाइम्स के मुताबिक तोगड़िया के करीबी और वीएचपी के प्रवक्ता जयशाह ने कहा कि, ‘प्रवीण भाई को सोला और गंगानगर पुलिस ने बगैर किसी पूर्व सूचना के ऐसे गिरफ्तार कर लिया जैसे वह कोई बहुत बड़े मुजरिम हों। उन्हें वकीलों से भी मिलने की इजाजत नहीं दी गई। वह अस्वस्थ थे। इसी वजह से वह आराम कर रहे थे। यदि उन्हें पता चल गया होता तो वह खुद ही गंगानगर चले जाते। धोतीकांड की तर्ज पर यह दूसरा मौका है जब उन्हें गलत मुकदमे में फंसाया जा रहा है। प्रवीण भाई लगातार राम मंदिर समेत धर्मांतरण और लव जिहाद जैसे मुद्दों पर दबाव बना रहे थे। हमें डर है कि कहीं गैर हिंदू ताकतों द्वारा साजिश रचकर उनकी हत्या न करा दी जाए।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here