प्रशांत किशोर ने पूछा- ‘जो हिंसा पुलिस ने जामिया के अंदर छात्रों पर किया, उनपर कार्यवाही कौन करेगा?’

0

दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई पर बिहार की सत्ताधारी जनता दल यूनाईटेड (JDU) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और देश के जाने-माने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने ट्वीट किया है। प्रशांत किशोर ने अपने इस ट्वीट में हिंसा में कथित तौर पर शामिल लोगों पर हो रही कार्रवाई के साथ-साथ पुलिस के ऊपर भी कार्रवाई की मांग की।

प्रशांत किशोर
फाइल फोटो: ANI

प्रशांत किशोर ने मंगलवार को अपने ट्वीट में लिखा, “दिल्ली में हुई हिंसा में कथित तौर पर शामिल लोगों पर दिल्ली पुलिस कार्यवाही कर रही है और ये होना भी चाहिए। परन्तु जो हिंसा पुलिस ने जामिया विश्वविद्यालय के कैम्पस के अन्दर छात्रों पर किया, उनपर कार्यवाही कौन करेगा? #CAA2019 #NRC”

बता दें कि, जामिया में रविवार को हुई हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में से एक भी स्टूडेंट नहीं है और सभी आरोपी क्रिमिनल बैकग्राउंड से है। गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है। बता दें कि, साउथ दिल्ली के न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी, जामिया और ओखला इलाके में हुई हिंसा के सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने दो FIR दर्ज की थी।

गौरतलब है कि रविवार, 15 दिसंबर को जामिया नगर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया गया था। छात्रों के प्रदर्शन में बाहर के भी कुछ लोग शामिल हुए थे। प्रदर्शन के दौरान पहले प्रदर्शनकारियों की पुलिस से झड़प हुई। इसके बाद कुछ लोगों ने चार डीटीसी बसों में आग लगा दी थी। आगजनी के बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया था।

इस दौरान पुलिस जामिया कैंपस में घुस गई थी। आरोप है कि, इस दौरान पुलिस ने छात्र-छात्राओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा था। पुलिस पर लाइब्रेरी में घुसकर छात्रों को पीटने का आरोप लगा था। वहीं, छात्रों पर आरोप लगा था कि उन्होंने हिंसा की। उसी दिन छात्रों ने बयान जारी कर कहा था कि हिंसा में एक भी छात्र शामिल नहीं था। बावजूद इसके पुलिस ने छात्र और छात्राओं की पिटाई की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here