जयललिता एक फाइटर थी और अपने सिद्धांतों पर हमेशा अटल रहने वाली: प्रणब मुखर्जी

0

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के निधन पर दुख जाहिर किया। उन्होंने जयललिता को फाइटर करार दिया। उन्होंने कहा कि वो अंतिम क्षण तक लड़ती रहीं। राष्ट्रपति ने जयललिता के निधन गहरी संवेदना जताई। उन्होंने कहा कि मैं उन्हें कई साल से जानता हूं। वह पहली बार राज्यसभा में तब आई जब मैं नेता सदन था।

pranab-06-1481009660

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि, मैं उन्हें कई साल से जानता हूं। वह पहली बार राज्यसभा में तब आई जब मैं सदन का नेता था। बता दें कि जयललिता 1984 में पहली बार राज्यसभा सांसद बनी थी।

कई ऐसे मौके आए जब हमारी उनके साथ बातचीत हुई। विकास समेत कई मुद्दों पर हमने चर्चा की। उनके पास इन मुद्दों को लेकर कमाल के तथ्य और जानकारी थी। राष्ट्रपति ने कहा कि, जयललिता अपने सिद्धांतों और विचारों पर अटल थीं, वह एक फाइटर थीं। वे अंत तक सारी जंग जीतीं, लेकिन एक जंग हार गईं, जो सभी को हारनी होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here