प्रणब होते पीएम तो 2014 लोकसभा चुनाव नहीं हारती कांग्रेस: खुर्शीद

0

पूर्व केन्द्रीय मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि 2004 में अगर प्रणब मुखर्जी प्रधानमंत्री बने होते तो कांग्रेस पार्टी 2014 की लोकसभा चुनाव नहीं हारती।

साथ ही खुर्शीद ने कहा कि मनमोहन सिंह के चयन से न सिर्फ कांग्रेस, बल्कि बाहरी लोगों को भी आश्चर्य हुआ।

खुर्शीद ने अपनी किताब ‘द अदर साइड ऑफ द माउंटेन’ में लिखा है, “बदतरीन घटने के बाद अक्लमंदी दिखाना हमेशा आसान होता है। हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि समूचे राष्ट्र ने नरसिंह राव सरकार (जून 1991 से मई 1996) के दौरान दिशा बदल देने वाले वित्तमंत्री के रूप में डॉ. मनमोहन सिंह की तारीफ की थी।”

उन्होंने कहा, “लेकिन जब डॉक्टर सिंह ने 1999 का लोकसभा चुनाव उस सीट से, दक्षिण दिल्ली से चुनाव लड़ा जिसे उनके लिए देश में सबसे सुरक्षित सीट समझी गई थी तो उन्हें एक ऐसे उम्मीदवार ने परास्त कर दिया जिनका नाम बहुत से लोग याद नहीं कर पाएंगे (यह भाजपा के प्रोफेसर विजय कुमार मल्होत्रा थे)।”

इस पुस्तक में बताया गया है कि वर्ष 2004 में प्रणब मुखर्जी प्रधानमंत्री पद के प्रबल दावेदार थे। इसका कारण उनका अनुभव और उनकी वरिष्ठता थी। लेकिन नेतृत्व में ‘अविश्वास’ के रहते वह प्रधानमंत्री नहीं बन सके।

 

LEAVE A REPLY