गौरी लंकेश हत्याकांड पर श्रीराम सेना के प्रमुख प्रमोद मुतालिक का शर्मनाक बयान, कहा- ‘कर्नाटक में यदि किसी कुत्ते की मौत हो जाए, तो क्या PM मोदी जिम्मेदार होंगे?’

0

हिंदुत्ववादी राजनीति पर मुखर नजरिया रखने वाली बेंगलुरु की वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या मामले को लेकर हिंदूवादी संगठन श्रीराम सेना के मुखिया प्रमोद मुथालिक ने बेहद शर्मनाक बयान बयान दिया है। हिंदूवादी नेता प्रमोद मुथालिक ने कर्नाटक में पिछले साल हमले में मारी गईं पत्रकार गौरी लंकेश की तुलना कुत्ते से की है। हत्या के मामले में किसी तरह के कनेक्शन से इनकार करते हुए उन्होंने यह विवादित बयान दिया है।

कर्नाटक में गौरी लंकेश और कलबुर्गी की हत्या का उल्लेख करते हुए मुथालिक ने कांग्रेस की सरकार पर सवाल उठाए। वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी की आलोचना करने वालों पर भी प्रमोद मुतालिक ने निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि लोग चाहते हैं कि पीएम मोदी गौरी लंकेश की हत्या पर प्रतिक्रिया दें, लेकिन अगर कर्नाटक में कुत्ते की मौत जाएं तो क्या मोदी को प्रतिक्रिया देनी चाहिए?

एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रमोद मुतालिक ने कहा, ‘कांग्रेस शासन में कर्नाटक और महाराष्ट्र में दो-दो हत्याएं हुईं। किसी ने कांग्रेस सरकार की नाकामी पर सवाल नहीं उठाए। इसके बजाए वे सवाल पूछ रहे हैं कि गौरी लंकेश हत्याकांड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्यों चुप हैं और कोई बयान नहीं दे रहे हैं। अगर कर्नाटक में किसी कुत्ते की मौत हो जाती है, तो क्या उसके लिए भी पीएम मोदी जिम्मेदार हैं?’

हालांकि, बाद में उन्होंने अपनी बात को साफ करते हए कहा कि उन्होंने गौरी लंकेश की तुलना कुत्ते से नहीं की थी। उन्होंने कहा कि गौरी लंकेश को गोली मारने वाला परशुराम वागमारे उनकी पार्टी से संबंधित नहीं है। गौरतलब है कि पिछले साल पांच सितंबर को 55 साल की गौरी लंकेश की हत्या उनके बेंगलुरु में राजराजेश्वरी नगर घर पर बाइक सवार नकाबपोश ने गोली मारकर कर दी थी।

एसआईटी ने हाल ही में कर्नाटक के विजयपुरा जिले से परशुराम वाघमारे को इस आरोप को गिरफ्तार किया है। एसआईटी सूत्रों के मुताबिक वाघमारे ने कबूल किया है कि उसने गौरी लंकेश की हत्या की थी। परशुराम वाघमारे गौरी लंकेश की हत्या के संबंध में गिरफ्तार 6 संदिग्धों में से एक है। बता दें कि गौरी लंकेश सांप्रदायिकता और हिंदुत्व की राजनीति के खिलाफ लिखती और बोलती रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here