प्रकाश राज ने BJP के मंत्री को आड़े हाथों लिया, पूछा- आप राष्ट्रवाद में धर्म को क्यों लाते हैं? फिर उन लोगों का क्या जो हिंदू नहीं हैं

0

राष्ट्रवाद तथा हिंदुत्व को बराबर बताने पर अभिनेता प्रकाश राज ने केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगडे़ को आड़े हाथों लिया। ट्विटर पर पोस्ट के जरिए राज ने कर्नाटक के बीजेपी नेता से यह साफ करने को कहा कि जब वह कहते हैं कि राष्ट्रवाद और हिंदुत्व एक है और उसका अर्थ समान है तो वह क्या कहना चाहते हैं।

File Photo: PTI

अभिनेता ने ट्वीट किया, ‘आप ने कहा, राष्ट्रवाद और हिंदुत्व दो अलग-अलग चीजें नहीं हैं बल्कि एक ही हैं और उनका मतलब एक ही है। आप राष्ट्रवाद में धर्म को क्यों लाते हैं? फिर उन लोगों का क्या जो हिंदू नहीं हैं लेकिन हमारे देश के गौरव हैं जैसे आंबेडकर, अब्दुल कलाम, एआर रहमान, खुशवंत सिंह, अमृता प्रीतम, डॉ.वर्गीज कुरियन… यह फेहरिस्त लंबी है।’

उन्होंने कहा कि,’और मेरे जैसे लोगों का क्या जिनका कोई धर्म नहीं हैं, लेकिन जो मानवता में विश्वास रखते हैं? क्या हम सब अपने देश के नागरिक नहीं हैं? आप लोग कौन हैं… आपका अजेंडा क्या है… चूंकि आप जन्मों में विश्वास रखते हैं… क्या आप लोग जर्मन हिटलर का अवतार हैं?’

इस पोस्ट के बाद उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कन्नड़ में बातें करते हेगडे़ की वीडियो क्लिप भी डाली है जिसमें वह कथित रूप से कह रहे हैं कि हिंदुत्व और राष्ट्रवाद अलग चीजें नहीं हैं। राज ने लिखा है, ‘इस मंत्री का कहना है कि इस्लाम का इस दुनिया से सफाया कर देना चाहिए… तो जब वह हिंदुत्व की बात करते हैं तो क्या उनका मतलब जीवनशैली से है।’

एक तीसरे ट्वीट में राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित अभिनेता ने अपने समर्थकों से कहा कि वे हमारे धर्मनिरपेक्ष देश में मंत्री के अजेंडा का विश्लेषण करें और उनकी मंशा एवं बेशर्म राजनीति पर सवाल करें। बता दें कि दक्षिण भारतीय फिल्मों के प्रख्यात अभिनेता प्रकाश राज को अब तक पांच राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिल चुके हैं।

बता दें कि इससे पहले प्रकाश राज ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर पीएम मोदी की चुप्पी की निंदा करते हुए अपने पांचों नेशनल अवॉर्ड लौटाने की धमकी दी थी। हालांकि इस खबर के वायरल होने के बाद उन्होंने अवॉर्ड वापसी की बात का खंडन किया था।

प्रकाश राज ने कहा था कि, ‘गौरी लंकेश को मारने वाले पकड़े या नहीं पकड़े जा सकते हैं लेकिन इससे इतर एक ऐसी भीड़ भी है जो कि सोशल मीडिया पर गौरी की हत्या का जश्न मना रही है। हम सभी को पता है कि ये कौन लोग हैं और ये किस विचारधारा से ताल्लुक रखते हैं। इनमें से कुछ लोगों को पीएम मोदी खुद फॉलो करते हैं। यह मुझे डराता है। हमारा देश किस दिशा में जा रहा है?’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here