VIDEO: प्रकाश राज ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो से कहा- मौलान का बयान संस्कृति है और आपने खाल खींचने वाला बयान देकर असभ्यता दिखाई

0

भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) और दक्षिणपंथी संगठनों पर लगातार हमला बोल रहे बॉलीवुड फिल्मों में विलेन की भूमिका में नजर आने वाले दक्षिण भारत के मशहूर अभिनेता प्रकाश राज ने शनिवार(31 मार्च) को पूर्व सिंगर और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो को जोरदार हमला बोला।

दरअसल, बेंगलुरु में इंडिया टुडे द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते हुए प्रकाश राज ने कहा कि, आपके नेता अच्छे बोलने वाले है वे बात करते रहेंगे। आज जब हम सांस्कृतिक युद्ध के बारे में बात कर रहे हैं, तो हम आपके व्यवहार पैटर्न को देख रहे हैं। आप जानते हैं कि संस्कृति क्या है? हम सब यहां कलाकार हैं, हमें अधिक संवेदनशील होने की आवश्यकता है।

कार्यक्रम में जब अभिनेता से कन्नड़ संस्कृति को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि, ‘हमें ऐसा अहसास देना होगा कि हर कोई यहां रह सकता है, हर कोई सामंजस्य से रह सकता है।’ कर्नाटक की संस्कृति नें बहुलता और सद्भाव है।प्रकाश राज ने कहा कि विविधता के बिना बेहतर समाज की कल्पना मुमकिन नहीं है। उन्होंने कहा कि सभी का सम्मान देना और भाई-चारे से रहना ही समाज की पहचान है लेकिन जो कथित हिंदुत्व है वह इसकी इजाजत नहीं देता। उन्होंने आगे कहा कि, वे (बीजेपी) हिंदुत्व जिस तरह के हिंदुत्व का प्रचार कर रहे हैं वह इस देश में काम नहीं करता है।’

प्रकाश राज ने आगे कहा कि, क्या आप किसी के बेटे को खोने का दर्द जानते हैं? संस्कृति के बारे में सीखनी है तो उस इमाम से सीखें जो बंगाल दंगों में अपने बेटे को गंवाने के बाद भी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहा है। प्रकाश ने बाबुल सुप्रियो से कहा कि आपने खाल खींचने वाला बयान देकर असभ्यता दिखाई है। प्रकाश राज ने आगे कहा कि, हिंदू धर्म सहिष्णु है लेकिन बीजेपी के नेता अपने बयानों में इस सहिष्णुता को भूल जाते हैं। बीजेपी की कोई विचारधारा नहीं है, वह संघ की विचारधारा पर काम करती है।

प्रकाश ने कहा कि केन्द्रीय मंत्री अनंत हेगड़े एक समुदाय के सफाए की बात करते हैं लेकिन पार्टी की तरफ से इस पर कोई सफाई नहीं दी जाती है। बता दें कि, आसनसोल से सांसद बाबुल सुप्रियो ने पिछले दिनों टीएमसी कार्यकर्ताओं की खाल खींचने की बात कही थी।

बाबुल सुप्रियो ने सफाई देते हुए कहा कि, उन्‍होंने आसनसोल के आदर्श इमाम से शुक्रवार की रात करीब 15 मिनट तक बड़ी कठिनाई के साथ उनसे फोन पर बात की। साथ ही उन्‍होंने कहा कि इमाम के पास उन्‍हें जाने नहीं दिया जाएगा, इसलिए वह अभी उनसे मिल नहीं पाएंगे।’

बता दें कि, बाबुल सुप्रियो ने शुक्रवार को ट्वीट करते हुए लिखा था कि, ‘इमाम साहब मैं आपको सलाम करता हूं। आशा करता हूं कि एक दिन मैं वोट बैंक की राजनीति के आरोप के बिना आपसे मिल सकूंगा। हम इस बात की कल्‍पना भी नहीं कर सकते हैं कि आप किस दर्द से गुजर रहे होंगे लेकिन जिस तरह की भावना का आपने प्रदर्शन किया है, उससे मैं निश्चित रूप से काफी प्रेरित हुआ हूं और ऊर्जावान महसूस कर रहा हूं।’

गौरतलब है कि, सुप्रियो अपने कुछ नेताओं के साथ मिलकर आसनसोल-रानीगंज इलाके में हालात का जायजा लेने के लिए जाना जा रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया था। इसी दौरान पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों और उनके बीच तीखी नोकझोंक भी हुई थी। बता दें कि इलाके में रामनवमी के जुलूस को लेकर शुरू हुई हिंसा के बाद स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

इस बीच न्यूज चैनलों पर दिखाए जा रहे वीडियो में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कुछ लोगों को चमड़ी उधेड़ने की धमकी देते हुए नजर आ रहे हैं, जब लोग उनके खिलाफ नारे लगा रहे थे। दरअसल, भीड़ ने उन्हें लौट जाने को कहा, जिस पर उन्होंने लोगों को खुली धमकी दे डाली। लोगों ने कहा कि वह उनकी चमड़ी छीलवा देंगे।

बता दें कि, बीते रविवार (25 मार्च, 2018) को भड़की इस सांप्रदायिक हिंसा में करीब चार लोगों की हत्या हो चुकी है। चौथे मृतक शख्स की पहचान एक 16 वर्षीय किशोर के रूप में की गई है। बेटे की हत्या के बाद हिंसाग्रस्त आसनसोल की एक मस्जिद के इमाम मौलाना इम्दादुल रशीदी ने गुरुवार (29 मार्च) को जब अपनी खामोशी तोड़ी तो वहां मौजूद लोग रोने लगे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इमाम साहब ने यहां एक समूह को संबोधित करते हुए लोगों से शांति की अपील की है। उन्होंने कहा कि बदले की बात की तो वो मस्जिद और शहर छोड़कर चले जाएंगे। उन्होंने कहा कि वह नहीं चाहते कि कोई और बाप अपना बेटा खोए। अपने बेटे को खोने वाले इमाम साहेब की यह भावुक अपील सुनकर वहां मौजूद लोगों के आंखों से आंसू निकल आए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here