प्रद्युम्न के पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने खोले कई राज, सरकार ने स्कूल को लिया कब्जे में

0

गुरुग्राम के भोंडसी स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा के 7 वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। रिपोर्ट के अनुसार प्रद्युम्न पर दो बार चाकू से जानलेवा वार किया गया था, इस रिपोर्ट से साफ़ है कि बच्चे को हत्या की मंशा से ही मारा गया था ताकी वह बच न सके।

प्रद्युम्न
फोटो- ABP News

ABP न्यूज़ के मुताबिक, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि प्रद्युम्न के गले पर पहला कट 18 cm लम्बा और 2 cm गहरा था। जबकि दूसरा वार पहले वार के ठीक 2 cm नीचे किया गया, जो 12cm लंबा और 2 cm गहरा था। प्रद्युम्न के गले पर दो बार जानलेवा हमला किया गया था, जिससे उसके मौत हो गई।

इतना ही नहीं बच्चे पर किए गए वार इतने गहरे थे कि उसने गले के कई टिस्यूस, मांसपेशियों, सांस की नली, खाने की नली और कान को पूरी तरह जख्मी कर दिया था।

इससे पहले प्रद्युम्न के शरीर का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर दीपक माथुर ने बताया था कि किसी भी हालत में उसकी जान नहीं बचाई जा सकती थी। इस रिपोर्ट के अनुसार प्रद्युम्न की मौत सदमे और ज्यादा खून बहने के कारण हुई।

गौरतलब है कि गुरुग्राम स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार(8 सितंबर) सुबह दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया। पुलिस ने हत्या के प्रयास के आरोप में बस कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। प्रद्युमन का शव स्कूल के बाथरूम में मिला था।

लगातार उठते सवालों के बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री ने आखिरकार जांच सीबीआई को सौंप दी साथ ही तीन महीने के लिए रायन स्कूल को सरकार ने कब्जे में भी ले लिया है। बता दें कि, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शुक्रवार(15 सितंबर) को प्रद्युम्न के परिवार से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में इस बात की जानकारी दी।

बता दें इस मामले में प्रद्युम्न के पिता ने अपने बेटे की हत्या की सीबीआई जांच और स्कूलों में सुरक्षा की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार(11 सितंबर) को केंद्र, हरियाणा सरकार, मानव संसाधन मंत्रालय, CBSC, सीबीआई और रयान स्कूल को नोटिस जारी कर तीन हफ्ते में जवाब मांगा है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here