‘इस मोहल्ले में न आएं BJP नेता, यहां महिलाएं और बच्चियां रहती हैं’, घरों के बाहर लगे अनूठे पोस्टर-बैनर

0

उन्नाव गैंगरेप मामले में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की संलिप्तता और कठुआ मामले के विरोध में हुई रैली में शामिल होने के बाद बीजेपी के दो मंत्रियों- चौधरी लाल सिंह और चंदर प्रकाश गंगा के पद से इस्तीफा देने के बाद नाराज इलाहाबाद के एक मोहल्ले के लोगों ने विरोध का अनूठा तरीका अपनाया है। प्रयागनगरी के शिवकुटी मोहल्ले में घरों के बाहर पोस्टर और बैनर नजर आए जिसमें महिला सुरक्षा का हवाला देते हुए बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं से इस क्षेत्र में न आने के लिए कहा गया है।मोहल्ले के लोगों की माने तो देश के अलग-अलग राज्यों मे जिस तरह बलात्कार की घटनाओं में बीजेपी नेताओं का नाम सामने आ रहा है, उस कारण लोगों के मन मे महिलाओं की सुरक्षा को लेकर डर है, जिसके कारण उन्होंने ये पोस्टर लगाए है। लोगों ने महिलाओं-बच्चियों का हवाला देते हुए पोस्टर-बैनर के माध्यम से बीजेपी कार्यकर्ताओं व नेताओं को मोहल्ले में आने से मना किया है।

इन पोस्टरों पर लिखा है, “इस मोहल्ले में भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं का आना मना है क्योंकि यहां महिलाएं और बच्चियां रहती हैं। निवेदक समस्त मोहल्ला निवासी।” समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, स्थानीय लोगों का कहना है कि ये पोस्टर महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों में बीजेपी कार्यकर्ताओं की कथित भूमिका के कारण लगाए गए हैं। इलाहाबाद के अलावा नागपुर से भी ऐसे पोस्टर सामने आए हैं।

मोहल्ले के लोगों की माने तो देश में जिस तरह बलात्कार की घटनाओं में बीजेपी नेताओं का नाम सामने आ रहा है, इससे लोगों के मन में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर डर है। इसलिए ऐसे पोस्टर और बैनर लगाये गए है। वहीं बीजेपी इसे राजनैतिक नजरिए से देख रही है और विरोधियों की साजिश बता रही है।

गौरतलब है कि उन्नाव की बांगरमऊ विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर एक युवती ने बलात्कार का आरोप लगाया है। इस मामले में बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर को सीबीआई ने शुक्रवार रात गिरफ्तार किया था, लेकिन जिस तरह से उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस केस में लापरवाही बरती, उससे लोगों में आक्रोश है। सीबीआई ने शनिवार को सेंगर को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें सात दिन की सीबीआई रिमांड पर भेज दिया गया है।

वहीं कठुआ मामले में भी बीजेपी के मंत्रियों ने आरोपियों का समर्थन किया था। हालांकि कठुआ मामले के विरोध में हुई रैली में शामिल होने के बाद शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी के दोनों मंत्रियों- चौधरी लाल सिंह और चंदर प्रकाश गंगा ने पद से इस्तीफा दे दिया। बीजेपी कोटे के इन दोनों मंत्रियों पर आरोपियों के समर्थन में निकाली गई रैली में शामिल होने का आरोप है।

https://twitter.com/ArpanBhaduri/status/985206260000636928?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=http%3A%2F%2Fwww.jantakareporter.com%2Findia%2Fposters-banning-entry-bjp-leaders-protect-women-girls-put-across-india%2F180512%2F&tfw_creator=JantaKaReporter&tfw_site=JantaKaReporter

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here