‘पॉक्सो ई-बॉक्स’: अब बच्चे कर सकते हैं यौन उत्पीड़न की सीधे शिकायत

0

परिजन और निकट के रिश्तेदारों द्वारा यौन उत्पीड़न की बढ़ती घटनाओं के बीच राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग एनसीपीसीआर ने ‘पॉक्सो ई-बॉक्स’ पहल शुरू की है जिसके जरिए पीड़ित बच्चे अपनी शिकायत सीधे आयोग तक पहुंचा सकते हैं।

भाषा की खबर के अनुसार, हाल ही में आयोग ने ‘पॉक्सो ई-बॉक्स’ नाम से अपनी वेबसाइट पर एक विंडो शुरू की है जहां जाकर पीड़ित बच्चे बड़े ही आसान तरीके से शिकायत दर्ज करा सकते हैं। शिकायत मिलने के बाद आयोग के स्तर से साल 2012 के बाल यौन उत्पीड़न विरोधी कानून :पॉक्सो: के तहत कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

posco2608-1

एनसीपीसीआर के सदस्य यशवंत जैन ने ‘भाषा’ के साथ बातचीत में कहा, ‘‘कई मामले ऐसे होते हैं जिनमें परिवार के लोग या रिश्तेदार शामिल होते हैं। इन स्थितियों में बच्चे चाहकर भी पुलिस या निकट की बाल कल्याण समिति अथवा किसी एनजीओ से संपर्क नहीं कर पाते हैं।

इस ई-बॉक्स की शुरूआत इसी मकसद के साथ की गई है कि बच्चे घर या किसी दूसरी जगह इंटरनेट के माध्यम से महज कुछ मिनट के अंदर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।’’ जैन ने कहा, ‘‘हमने ई-बॉक्स के स्तर पर आने वाली शिकायतों पर आगे की कार्रवाई के लिए आयोग के भीतर दो सदस्यीय टीम का गठन किया है।

एक बार शिकायत मिलने के बाद हमारी टीम अपने स्तर पर शिकायत की छानबीन करती है और फिर संबंधित प्रशासन के माध्यम से कार्रवाई और न्याय सुनिश्चित कराती है।’’ गौरतलब है कि केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने बाल यौन उत्पीड़न को लेकर एक अध्ययन कराया जिसमें पाया गया कि 53 फीसदी बच्चे किसी न किसी रूप में यौन उत्पीड़न का शिकार हुए हैं तथा ज्यादातर मामलों में आरोपी परिवार का कोई सदस्य अथवा नजदीकी रिश्तेदार शामिल था।

LEAVE A REPLY