दिवाली पर दिल्ली में प्रदूषण ने तोड़ा तीन साल का रिकॉर्ड, छाया धुंध

0

दीपावली के मौके पर दिल्ली में प्रदूषण की मात्रा इस बार बीते तीन सालों में सबसे ज्यादा दर्ज की गई. बीते 36 घंटों के दौरान दिल्ली की हवा में PM 10 की संख्या 4 सौ को भी पार कर गई। प्रदूषण का आलम यह है कि देश की 10 सबसे प्रदूषित जगहों में से 8 दिल्ली-एनसीआर की हैं।

air-pollution-620x400
एनडीटीवी की खबर के अनुसार, दिल्ली में प्रदूषण का सबसे ज्यादा असर शादीपुर इलाके में दर्ज किया गया जहां हवा में PM 2.5 की मात्रा 471 दर्ज की गई, जबकि इसका लेवल ज़ीरो से 50 के बीच सबसे सही माना जाता है।

Also Read:  Industries across NCR using sulphur-heavy fuel: Green Agency

देश के दूसरे हिस्सों में भी पटाखों का असर देखा गया है और दिल्ली से अलग दूसरे शहरों में भी प्रदूषण का स्तर बढ़ा है। ठंड की दस्तक और गाड़ियों, फैक्टरियों के धुएं की वजह से भी प्रदूषण में बढ़ोतरी हुई है।

Also Read:  Delhi's five traffic intersections to get air purifiers immediately

सोमवार की सुबह यानी दिवाली के बाद की सुबह दिल्ली में प्रदूषण का सबसे ज्यादा लोधी रोड के आसपास दिखा, जहां हवा में PM 2.5 की मात्रा 500 दर्ज की गई, जबकि इसका लेवल ज़ीरो से 50 के बीच सबसे सही माना जाता है। सुबह-सुबह कई इलाकों में भारी धुआं और कोहरा दिखा।

Also Read:  आधुनिक लौह पुरुष बनना चाहते हैं हार्दिक पटेल

प्रदूषण की वजह से विजय चौक पर दृश्यता 200 मीटर से भी कम थी। यही आलम दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर भी था। बीती रात यानी दिवाली की रात करीब 10 बजे दिल्ली के आर के पुरम इलाके में प्रदूषण चरम पर था। वहां हवा में PM 2.5 की मात्रा 999 दर्ज की गई। यह खतरनाक स्तर से भी बहुत ज्यादा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here