दिवाली पर दिल्ली में प्रदूषण ने तोड़ा तीन साल का रिकॉर्ड, छाया धुंध

0

दीपावली के मौके पर दिल्ली में प्रदूषण की मात्रा इस बार बीते तीन सालों में सबसे ज्यादा दर्ज की गई. बीते 36 घंटों के दौरान दिल्ली की हवा में PM 10 की संख्या 4 सौ को भी पार कर गई। प्रदूषण का आलम यह है कि देश की 10 सबसे प्रदूषित जगहों में से 8 दिल्ली-एनसीआर की हैं।

air-pollution-620x400
एनडीटीवी की खबर के अनुसार, दिल्ली में प्रदूषण का सबसे ज्यादा असर शादीपुर इलाके में दर्ज किया गया जहां हवा में PM 2.5 की मात्रा 471 दर्ज की गई, जबकि इसका लेवल ज़ीरो से 50 के बीच सबसे सही माना जाता है।

Also Read:  Sprinkle water on roads to contain pollution: NGT to Delhi govt
Congress advt 2

देश के दूसरे हिस्सों में भी पटाखों का असर देखा गया है और दिल्ली से अलग दूसरे शहरों में भी प्रदूषण का स्तर बढ़ा है। ठंड की दस्तक और गाड़ियों, फैक्टरियों के धुएं की वजह से भी प्रदूषण में बढ़ोतरी हुई है।

Also Read:  पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी का किया दौरा

सोमवार की सुबह यानी दिवाली के बाद की सुबह दिल्ली में प्रदूषण का सबसे ज्यादा लोधी रोड के आसपास दिखा, जहां हवा में PM 2.5 की मात्रा 500 दर्ज की गई, जबकि इसका लेवल ज़ीरो से 50 के बीच सबसे सही माना जाता है। सुबह-सुबह कई इलाकों में भारी धुआं और कोहरा दिखा।

Also Read:  Delhi pollution levels alarming, Centre summons 5 northern states

प्रदूषण की वजह से विजय चौक पर दृश्यता 200 मीटर से भी कम थी। यही आलम दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर भी था। बीती रात यानी दिवाली की रात करीब 10 बजे दिल्ली के आर के पुरम इलाके में प्रदूषण चरम पर था। वहां हवा में PM 2.5 की मात्रा 999 दर्ज की गई। यह खतरनाक स्तर से भी बहुत ज्यादा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here