नोएडा: दहेज के लिए ससुराल वालों ने महिला को दिया जहर, 24 घंटे बाद भी पुलिस ने दर्ज नहीं की FIR

0
>

नोएडा (गौतमबुद्ध नगर) सैक्टर 45 में दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ससुराल वालों द्वारा एक महिला को जहर देकर मारने की कोशिश का मामला सामने आया है। इस मामले में पीड़ित महिला और उसके परिवार वाले मंगलवार (12 सितंबर) शाम से ही शिकायत दर्ज कराने के लिए नोएडा सैक्टर 39 थाने में बैठे हुए हैं, लेकिन 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस द्वारा अभी तक आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज नहीं किया गया है।  दरअसल, नोएडा के सलालपुर के निवासी राधेश्याम शर्मा ने अपनी बेटी मोनी शर्मा की शादी (6 जून 2015) नोएडा सैक्टर 45 (सरदपुर गली नंबर- 23) दिगम्बर शर्मा के बेटे बन्टी शर्मा के धूमधाम के साथ की थी। परिजनों का आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले और दहेज की मांग करने लगे। कई बार समझौते का प्रयास किया गया, लेकिन ससुराल वाले नहीं माने और मोटरसाइकिल व कैश की मांग पर अड़े रहे।

Also Read:  सुप्रीम कोर्ट ने कहा SIT करेगी नौसेना में पत्नियों की अदला बदली के केस की जांच

पीड़ित महिला ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में बताया कि उसके माता-पिता बेहद गरीब हैं, जिस वजह उन्होंने ससुराल वालों द्वारा मांग की गई मोटरसाइकिल (बुलेट) नहीं दे पाए। लेकिन उसके पिता राधेश्याम शर्मा ने कई बार अपने दामाद को कैश रुपये दिए, ताकि उनके बेटी के साथ मारपीट ना हो।

ससुराल वालों ने दिया जहर

महिला द्वारा की गई शिकायत का पेपर

महिला ने बताया कि मोटरसाइकिल नहीं मिलने पर उसके ससुराल वाले (पति बन्टी शर्मा, ससुर दिगम्बर शर्मा, सास गीता शर्मा, जेठ मोनू और ससुर का छोटा भाई सतदेव) पिछले कुछ दिनों से उसके साथ मारपीट करना शुरू कर दिए। और मंगलवार (12 सितंबर) सुबह सभी ने मिलकर उसे जान से मारने का षड्यंत्र रचा और उसे चाय में जहर मिलाकर दे दिए। फिर भी उसकी मौत ना होने ससुराल वालों ने उसे किसी अस्पताल में भर्ती करवा दिए और उन्होंने इस बात की जानकारी उसके घरवालों को नहीं दी।

Also Read:  सिंगर अभिजीत ने रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल पनाग को बताया पाकिस्तानी समर्थक, ट्विटर यूजर्स ने जताया विरोध

‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में पीड़िता ने बताया कि मंगलवार शाम को जब मेरी तबीयत थोड़ी ठीक हुई तो उसके पति द्वारा फोन कर उसके माता-पिता को बताया गया कि मोनी की तबीयत खराब है। आनन-फानन में जब महिला के घर वाले उसके ससुराल पहुंचे तो उन्होंने उसे मायके लेकर जाने का फरमान सुना दिया। जिसके बाद परिवार वाले महिला को लेकर मायके चले आए और पुलिस में शिकायत दर्ज कराने का फैसला किया।

24 घंटे बाद भी पुलिस ने दर्ज नहीं की है FIR 

महिला ने बताया कि न्याय की मांग के लिए मंगलवार शाम से ही वह और उसके परिवार वाले नोएडा सैक्टर 39 थाने में ससुराल वालों के खिलाफ FIR दर्ज कराने के लिए बैठे हुए हैं, लेकिन 24 घंटे बाद भी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज नहीं की है। महिला ने बताया कि पुलिस ने शुरू में तो 24 घंटे के अंदर कार्रवाई का भरोसा दिया, लेकिन ससुराल वालों द्वारा दबाव बनाए जाने के बाद ठंडा पड़ गई।

Also Read:  मेरा इस्तेमाल ‘राजनीतिक औजार’ के रूप में हो रहा है: रॉबर्ट वाड्रा

परिजनों का आरोप है कि ससुराल वाले अमीर घराने के हैं, जिस वजह से उनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई करने से बच रही है। पीड़ित परिवार वालों का कहना है कि जबतक आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज कर गिरफ्तार नहीं किया जाता है तब तक वह थाने में बैठे रहेंगे। इस मामले में ‘जनता का रिपोर्टर’ ने पुलिस का पछ जानने की कोशिश की, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया। जैसे ही पुलिस का कोई बयान आता हम अपडेट करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here