गोंडा: पुलिस और STF ने किडनैपर्स के चंगुल से 6 वर्षीय बच्चे को छुड़ाया, एक महिला सहित 5 गिरफ्तार; 4 करोड़ रुपये की मांग थी फिरौती

0

उत्तर प्रदेश के गोंडा में अपरहण हुए किराना व्यवसायी राजेश कुमार गुप्ता के 6 वर्षीय पौत्र को शनिवार तड़के पुलिस और एसटीएफ टीम ने मुठभेड़ के बाद सकुशल बरामद किया। इस दौरान दो अपहर्ताओं के पैर में गोली लगी। मुठभेड़ में महिला समेत कुल पांच बदमाशों को भी गिरफ्तार किया गया हैं।

गोंडा

एडीजी लॉयन ऑर्डर प्रशांत कुमार ने मीडिया से बातचीत में बताया कि घटना की एफआईआर के फौरन बाद से पुलिस की कई टीमें लगा दी गई थीं। शनिवार सुबह गांव पारा में मुखबिर की सूचना पर मुठभेड़ हुई। अपहरणकर्ता गाड़ी से बच्चे को किसी दूसरी जगह ले जा रहे थे। मुठभेड़ में अपहृत बच्चे नमो को सकुशल बरामद किया गया और इस दौरान दो बदमाश उमेश यादव और दीपू कश्यप घायल हुए। वहीं सूरज पांडे, उनकी पत्नी छवि पांडेय और उनका छोटा भाई राज पांडेय गिरफ्तार किया गया है। घायल बदमाशों का इलाज चल रहा है। बदमाशों के पास आल्टो गाड़ी, एक पिस्टल, दो तमंचे भी बरामद हुए हैं। क्षेत्र में अभी जांच अभियान चल रहा है।

उन्होंने बताया कि शासन की तरफ से एसटीएफ और स्थानीय पुलिस को 1-1 लाख रुपए इनाम की घोषणा की गई है। अभी भी मामले की जांच की जा रही है और गिरफ्तार लोगों से पूछताछ में घटना से जुड़े और लोगों का पता लगाया जा रहा है। जिन पुलिसकर्मियों को चोट पहुंची है, उनका मेडिकल कराया जाएगा। इस मामले में जो भी शामिल रहे हो उन पर भी कड़ी कार्रवाई होगी।

गौरतलब है कि, उत्तर प्रदेश के गोंडा के कर्नलगंज कोतवाली क्षेत्र में गाड़ी बाजार मुहल्ला निवासी किराना व्यवसायी ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर दो व्यक्ति उनके घर पर आए। उन लोगों ने खुद को स्वास्थ्य विभाग से होने की जानकारी देते हुए मास्क व सैनिटाइजर बांटने की बात कही। भाई हरी गुप्त से मोबाइल नंबर लेते हुए कहा कि मास्क व सैनिटाइजर देने के लिए किसी को गाड़ी तक भेज दीजिए। इस पर परिवारजन ने हरि के 6 वर्षीय पुत्र आरुष उर्फ नमो को भेज दिया।

बताया गया कि कार सवार बदमाश बच्चे को वहीं से अगवा कर भाग निकले। कुछ देर बाद बच्चा वापस घर नहीं लौटा तो परिवारजनों ने खोजबीन शुरू की। तभी हरी गुप्त के मोबाइल पर फोन करके बदमाशों ने 4 करोड़ रुपये की फिरौती की मांग की। साथ ही पुलिस को जानकारी न देने की धमकी भी दी। व्यवसायी पुत्र आरुष उर्फ नमो के अपहरण की पूरी वारदात CCTV कैमरे में कैद हो गई है, इसकी जानकारी पुलिस को दी गई थी। इसके बाद पुलिस ने पूरी मुस्तैदी से मामले में कार्रवाई करना शुरू किया। इस घटना को लेकर यूपी एसटीएफ को तुरंत अलर्ट किया गया। गोंडा जिले की सारी सीमाएं सील कर दी गईं। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here