PMC बैंक पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के प्रतिबंध के बाद सामने आया निर्देशकों का BJP से लिंक

0

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मुंबई के पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी बैंक (PMC) के पेआउट्स को फ्रीज कर दिया है, जिससे जमाकर्ता घबराए हुए हैं। इसी बीच, बैंक के 12 डायरेक्टर्स में से कई के कथित रूप से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से लिंक सामने आए हैं।

PMC
फाइल फोटो: रजनीत सिंह (फोटो सोर्स, Mumbai Mirror)

मुंबई मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, सह-निर्देशकों में से एक रजनीत सिंह मुलुंड से भाजपा के चार बार के विधायक रह चुके सरदार तारा सिंह के बेटे हैं। रजनीत खुद एक रजनीत पार्टी के सदस्य हैं और कहा जाता है कि वह अपने 75 वर्षीय पिता की जगह लेने के लिए मुलुंड से विधानसभा चुनाव के लिए टिकट मांग रहे हैं। 2017 के बीएमसी चुनाव के लिए रजनीत ने मुलुंड से बीजेपी का टिकट हासिल करने की कोशिश की थी, लेकिन तत्कालीन भाजपा सांसद किरीट सोमैया के बेटे नील सोमैया को टिकट दे दिया गया। इस मामले में वह पिछड़ गए।

RBI ने मंगलवार को पीएमसी से 6 महीने के लिए सिर्फ 1 हजार रुपये निकाल पाने की कैप लगा दी है। बैंक कोई लोन भी नहीं दे सकेगा। वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया है कि नुकसानदायक कर्जों की खराब जानकारी और दिवाला हो चुकी हाउसिंग डिवेलपमेंट ऐंड इन्फ्रास्ट्रक्चर को 2500 करोड़ रुपये का कर्ज देने के पीछे यह कार्रवाई की गई है।

रजनीत का कहना है कि पिछले 13 सालों में डायरेक्टर के तौर पर यह उनका तीसरा कार्यकाल है। उन्होंने कहा, ‘मैं बैंक के रोजाना के कामकाज का हिस्सा नहीं हूं और न ही मुझे किसी लोन के बारे में पता है। हम रिजर्व बैंक से कैप हटाने की गुजारिश कर रहे हैं। हम ग्राहकों से अपील करते हैं कि डरें नहीं।’

वहीं, कांग्रेस ने बैंक डायरेक्टरों को जिम्मेदार ठहराया है। शहर के पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने कहा है, ‘लगभग सभी बैंक डायरेक्टरों का बीजेपी से संबंध है। वे ग्राहकों को हो रहीं परेशानियों के लिए जिम्मेदार हैं। उन्होंने डिफॉल्ट रियल एस्टेट कंपनियों को कर्ज दिए और ऑडिट रिपोर्ट से छेड़छाड़ की।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here