दो साल में PM मोदी की संपत्ति में 42 फीसदी का हुआ इजाफा, जानिए अन्य मंत्रियों के पास कितनी है दौलत

0

पीएम मोदी अरुण जेटली और सुषमा स्वराज सहित सरकार के कई मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का एलान कर दिया है।पिछले दो सालों में पीएम मोदी की संपत्ति में कुल 42 फीसदी का इजाफा हुआ है। अगर दो साल में केंद्रीय मंत्रियों की संपत्ति में हुए इजाफे की बात करें को सबसे ज्यादा केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की संपत्ति बढ़ी है वहीं मानव संशाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर की संपत्ति में गिरावट आई है।

मोदी
फाइल फोटो

अभी तक पीएम मोदी सहित सरकार के 14 मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का एलान कर दिया है। इनमें डीवी सदानंद गौड़ा, रामविलास पासवान, मुख्तार अब्बास नकवी, अनुप्रिया पटेल, जेपी नड्डा, अशोक गजपति राजू, और प्रकाश जावड़ेकर शामिल हैं। फिलहाल, अभी गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का एलान नहीं किया है।

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की संपत्ति पिछले दो सालों में सबसे ज्यादा बढ़ी है, उनकी संपत्ति 2014-15 में 53 लाख थी जो बढ़कर 2016-17 में 89 लाख रुपये हो गई है। मतलब तोमर की कुल संपत्ति में करीब 67 फीसदी का इजाफा हुआ है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की संपत्ति 41.8 फीसदी का इजाफा हुआ है, उनकी संपत्ति 1.41 करोड़ से बढ़कर 2 करोड़ हो गई है।

पीएमओ की वेबसाइट पर जारी आंकड़ों के मुताबिक केंद्रीय सांख्यिकी एवं क्रियान्वयन मंत्री सदानंद गौड़ा की संपत्ति में 42.3 फीसदी का इजाफा हुआ है, उनकी संपत्ति 2014-15 में 4.65 करोड़ रुपये थी जो 2016-17 में बढ़कर 6.62 करोड़ रुपये हो गई है। केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह की संपत्ति में मात्र 23.5 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है, उनकी संपत्ति 7.97 करोड़ थी जो बढ़कर 9.85 करोड़ रुपये हो गई है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की संपत्ति में भी भढ़ोतरी दर्ज की गई है। 2014-15 में उनकी संपत्ति 4.55 करोड़ रुपये थी जो 17.4 फीसदी बढ़कर 2016-17 में 5.34 करोड़ रुपये हुई है। वहीं वी के सिंह की संपत्ति 12.5 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है, उनकी संपत्ति 69 लाख से बढ़कर 78 लाख रुपये ही हुई है।

नागरिक उड्डयन मंत्री गजपति राजू की संपत्ति 11.7 फीसदी बढ़ी है, उनकी संपत्ति 6.98 करोड़ थी जो बढ़कर 7.80 करोड़ रुपये हुई है। केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की संपत्ति 7.8 फीसदी ही बढ़ी है। 2014-15 में उनकी कुल संपत्ति 99 लाख थी जो 2016-17 में बढ़कर 1.07 करोड़ रुपये हो गई।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर की संपत्ति में बढ़ोत्तरी नहीं हुई है बल्कि उनकी संपत्ति इन दो सालों में 50 फीसदी घट गई है। आंकड़ों के मुताबिक जावड़ेकर की संपत्ति साल 2014-15 में 1.11 करोड़ रुपये थी जो 2016-17 में घटकर 56 लाख रह गई है।

जावड़ेकर के अलावा जिन मंत्रियों की संपत्ति में गिरावट दर्ज हुई है उनमें खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान (30.8%), केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा (14.6%) और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली (4.3%) शामिल हैं।

हांलाकि प्रकाश जावड़ेकर और रामविलास पासवान की पत्नियों की संपत्ति मिला दी जाए तो वो कई गुना बढ़ जाती है।14 मंत्रियों में अरुण जेटली मोदी सरकार के सबसे अमीर मंत्रियों में से एक हैं। उनकी कुल संपत्ति 67.7 करोड़ रुपये है, जबकि उनकी पत्नी संगीता जेटली के पास 100.97 करोड़ रुपये की संपत्ति है।

photo, screenshot- firstpost

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here