चोटिल शिखर धवन के लिए ट्वीट कर यूजर्स के निशाने पर आए पीएम मोदी, लोगों ने की मुजफ्फरपुर में हो रहे बच्चों की मौत पर चुप्पी तोड़ने की अपील

0

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में चोटिल हुए थे, जिसके बाद अब वो पूरे विश्व कप 2019 से बाहर हो गए हैं। शिखर धवन की जगह बीसीसीआई ने रिषभ पंत को टीम में शामिल किया है। इसी बीच, धवन ने बुधवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें उन्होंने सभी फैंस को शुभकामनाएं के लिए शुक्रिया कहा। उनके इस वीडियो पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया दी। जिसको लेकर वो सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए और लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया।

पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (20 जून) की शाम को शिखर धवन के लिए ट्वीट किया। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, “प्रिय शिखर धवन, इस बात में कोई शक नहीं कि आपके खेल को पिच भी मिस करेगी लेकिन मैं आपके जल्दी ठीक होने की उम्मीद करता हूं, जिससे आप जल्द से जल्द मैदान पर लौटें और एक बार फिर देश की जीत में ज्यादा से ज्यादा योगदान दें।”

बता दें कि, पीएम मोदी ने अब तक बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (AES) यानी चमकी बुखार की वजह से बच्चों की हो रहीं मौतों पर अभी तक कोई ट्वीट नहीं किया है। जिसको लेकर वो विपक्षी पार्टियों के साथ-साथ सोशल मीडिया यूजर्स के भी निशाने पर हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मुजफ्फरपुर जिले में चमकी बुखार की वजह से अब तक करीब 135 मासूम बच्चों की मौत हो चुकी है। बच्‍चों की मौत की खबर ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। इस घटना की हर कोई निंदा कर रहा है, लेकिन इस पूरे घटना पर पीएम का अभी तक कोई ट्वीट या बयान सामने नहीं आया है। इसी बीच, शिखर धवन पर अपनी प्रतिक्रिया देकर पीएम मोदी सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए।

पिंकू शुक्ला नाम के यूजर ने लिखा, “प्रधानमंत्री जी को छोटी से छोटी बातों का पता रहता है परन्तु बिहार में बच्चों की मौत से जो हाहाकार मचा हुआ है सायद उसकी जानकारी नही है सही भी है बच्चे कौन सा वोट देते है!!” एक अन्य यूजर ने लिखा, “40 में से 39 सीट दे दिया बिहार ने और आप धवन के अंगूठे पर ट्वीट कर रहे हो, और मुज्जफरपुर पर मनमोहन सिंह बने हो!” एक अन्य यूजर ने लिखा, “सर शिखर धवन की चोट तो ठीक हो जाएगी लेकिन जो 115 बच्चे इलाज के अभाव में चले गये वो कभी लौट कर नहीं आंएगे। जरा दो शब्द उनके लिए भी लिख दीजिए।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “आप महान हो प्रभु, एक प्रोफेशनल खिलाड़ी का स्वस्थ होना देश के लिए जरूरी भी है देश को शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करनी चाहिए.. गरीबों के बच्चों का क्या है गलती है उनकी जो गरीबी में भी बच्चे पैदा करते हैं नही खिला सकते नही इलाज़ करा सकते तो इसमें नीतीश या सरकार का क्या दोष है।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “मोदी जी दो शब्द बिहार के ऊपर भी बोल दीजिये, आप ही तो कहते थे कि हर एक सीट पे मोदी खड़ा है।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “माननीय को शिखर धवन चोटिल है ये तो नजर आ गया पर बिहार के सैंकड़ों बच्चों की लाश नहीं नजर आयी। साहेब 39 सीट दिए थे हम बिहारी कुछ तो हमारी भी सम्मान कर दो। फक्र है आपकी धोखेबाजी पर।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “चलो अच्छा है मुजफ्फरपुर के बच्चों के लिए ट्वीट नहीं किया नहीं तो उनकी आत्मा की शांति भंग हो जाती।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स उनके इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहें है।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here