मेहरम के बिना मुस्लिम महिलाओं के हज पर जाने के PM मोदी के दावों का सोशल मीडिया यूजर्स ने ऐसे उड़ाया मजाक

0

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल के आखिरी दिन अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में मुस्लिम महिलाओं की हज यात्रा पर बात की। PM मोदी ने कहा कि अब मुस्लिम महिलाएं मेहरम के बिना (किसी पुरुष अभिभावक के बिना) भी हज के लिए जा सकेंगी। PM मोदी के मुताबिक अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्रालय ने 70 वर्षों से चली आ रही इस परंपरा को अब खत्म कर दिया है।

PM मोदी

अपनी बात को प्रमुखता देते हुए PM मोदी ने इस पर कहा था कि मेहरम पर लगी पाबंदी को हटा दिया गया है। हालांकि PM मोदी के दावों पर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लमीन (AIMIM) के प्रमुख व सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भी मजाक उड़ाते हुए उनके दावों को खारिज कर दिया था। जिसमें मोदी ने दावा किया है कि उनकी सरकार के नयी हज यात्रा के नई नीति के तहत 45 साल की उम्र की मुस्लिम महिलाएं के बिना मेहरम एक साथ हज यात्रा पर जा सकती हैं।

जबकि आपको बता दे कि ग्रेटर कश्मीर की रिपोर्ट के मुताबिक हैदराबाद के सांसद ने कहा कि सऊदी अरब में पहले से ही इस संबंध में नियम बनाए जा चुके हैं कि किसी भी देश से 45 साल से अधिक उम्र की महिलाएं बिना ‘मेहरम’ के एक संगठित समूह के साथ हज की यात्रा कर सकती हैं।ओवैसी ने PM मोदी के उन दावों को झूठा करार देते हुए खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि इसका श्रेय PM मोदी या भारत के विदेश मंत्रालय को नहीं दिया जा सकता।

जबकि PM मोदी के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने PM मोदी को लेकर चुटकियां कसनी शुरू कर दी। लोगों अलग-अलग तरह से ट्वीट कर उनके इस बयान का मजाक बनाते हुए सोशल मीडिया पर कई ट्वीट्स किए।

https://twitter.com/Govindk87397017/status/948034604212002816

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here