कनाडाई प्रधानमंत्री को राष्ट्रपति भवन में दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर, PM मोदी ने जस्टिन ट्रूडो और उनके परिवार का किया स्वागत

0

एक सप्ताह के भारत दौरे पर आए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो का शुक्रवार (23 फरवरी) को राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत किया गया। राष्ट्रपति भवन में खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्रूडो और उनके परिवार का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। इसके बाद ट्रूडो को गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। बता दें कि कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो के भारत दौरे का आज छठा दिन है।

@PMOIndia

इस दौरान पीएम मोदी और जस्टिन ट्रूडो का परिवार एक-दूसरे से मिलकर काफी उत्साहित नजर आया। ट्रूडो की बेटी एला-ग्रेस तो पीएम मोदी को देखकर फौरन उनके गले लग गई। इसके बाद पीएम मोदी ने ट्रूडो के तीनों बच्चों से हाथ मिलाया और उन्हें राष्ट्रपति भवन में लेकर गए।

इससे पहले कल (गुरुवार को) पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के साथ होने वाली मुलाकात और सभी क्षेत्रों में भारत और कनाडा के बीच संबंधों को और मजबूत करने के सिलसिले में होने वाली बातचीत को लेकर आशान्वित हूं. दोनों देशों के बीच संबंधों के प्रति उनकी गहन प्रतिबद्धता की मैं सराहना करता हूं।’’

पीएम मोदी ने 2015 के अपने कनाडा दौरे की तस्वीर भी पोस्ट की जब उन्होंने ट्रूडो और उनकी बेटी एला ग्रेस से मुलाकात की थी। प्रधानमंत्री हवाईअड्डे पर ट्रूडो की अगवानी करने नहीं पहुंचे थे, जिसके बाद कनाडा में यह अटकलें लगी थीं कि कनाडा में सिख कट्टरपंथ का बढ़ना ट्रूडो की अनदेखी की वजह है। हालांकि सरकारी सूत्रों ने इन अटकलों को खारिज किया।

17 फरवरी को भारत पहुंते ट्रूडो

बता दें कि जस्टिन ट्रूडो का यह उनका पहला आधिकारिक भारत दौरा है। ट्रूडो 17 फरवरी से 24 फरवरी, 2018 तक भारत दौरे पर हैं। कनाडा के प्रधानमंत्री के दौरे का मकसद दोनों देशों के बीच व्यापार, निवेश, ऊर्जा, विज्ञान एवं नवाचार, ऊच्च शिक्षा, बुनियादी विकास और अंतरिक्ष समेत कई क्षेत्रों के साझा हितों को लेकर द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना है। इसके अलावा, दोनों देश आपसी हितों के वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर विचार साझा करेंगे। वे सुरक्षा और आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई के लिए सहयोग पर प्रतिबद्धता जताएंगे।

फीका रहा स्वागत

दरअसल, ट्रूडो के दिल्ली पहुंचने पर उनके स्वागत को फीका बताया जा रहा है। दरअसल जस्टिन ट्रूडो अपने परिवार और प्रतिनिधिमंडल सहित जब दिल्ली पहुंचे तो इस दौरान पीएम मोदी की तरफ से उनका स्वागत न किए जाने के कारण इस स्वागत को फीका बताया गया। कनाडा का मीडिया पूछ रहा है कि आखिर पीएम मोदी ने उनके प्रधानमंत्री का उस तरह से स्‍वागत क्‍यों नहीं किया जैसे वह बाकी देश के नेताओं का करते हैं?

दरअसल, कानाडा के लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर भी इस बात को लेकर सवाल उठाया जा रहा है कि आखिर क्‍यों पीएम मोदी, ट्रूडो का इंतजार करते हुए नजर नहीं आए। जस्टिन ट्रूडो नई दिल्ली पहुंचे तो उनकी अगवानी करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जोधपुर के सांसद और केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और राजदूत विकास स्वरूप को एयरपोर्ट भेजा। वहीं आगरा पहुंचने पर यूपी सीएम के योगी आदित्यनाथ ने भी उनका स्वागत नहीं किया। आगरा के जिलाधिकारी गौरव दयाल तथा कमिश्नर के. राममोहन राव कनाडा के पीएम के स्वागत के लिए मौजूद रहे।

जस्टिन ट्रूडो के हफ्ते भर के दौरे में भारत द्वारा उचित सम्मान नहीं मिलने को कनाडा मीडिया ने मुद्दा बना दिया है। बता दें कि पीएम मोदी ने अबतक पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे, अबु धाबी के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायद अल नहयान, बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना और इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू को एयरपोर्ट पर खुद जाकर स्वागत किया है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here