नरेंद्र मोदी के भाषण पर सवाल- नगला फतेला में 70 साल बाद भी नहीं आई बिजली

1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्‍त को लाल किले से दिए गए अपने भाषण पर घिरते नज़र आ रहें हैं एक दावे पर गांव वालों ने सवाल उठा दिए हैं। पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भाषण के दौरान उत्‍तर प्रदेश के हाथरस के गांव नगला फतेला का जिक्र करते हुए कहा था कि वहां पर 70 साल बाद बिजली पहुंची है। जबकि इस गांव की दिल्‍ली से दूरी केवल तीन घंटे है।

Also Read:  India could play heroic role at UN Climate Change talks: Greenpeace

pm-modi_650x400_41465139030की ह पीएम के इस दावे पर गांव के लोग सवाल उठा रहे हैं। उनका कहना है कि गांव में केवल बिजली के तार खिंचे हैं, बिजली नहीं आई है। बिजली के पोल लगाए एक साल हो गया।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा था, ”हम एलईडी बल्‍ब का इस्‍तेमाल कर ग्‍लोबल वार्मिंग में कमी करने के साथ ही बिजली की बचत भी कर सकते हैं। हाथरस के नगला फतेला गांव जाने में दिल्‍ली से तीन घंटे लगते हैं। लेकिन वहां बिजली पहुंचने में 70 साल लग गए।” नगला फतेला गांव उत्‍तर प्रदेश के महामाया नगर जिले में आता है। इस गांव की आबादी 1550 है और यहां पर 235 परिवार रहते हैं। सोमवार को ही प्रधानमंत्री दफ्तर की ओर से नगला फतेला गांव के लोगों के टीवी पर पीएम का भाषण देखने की तस्‍वीरें भी जारी की गई थी।

Also Read:  PM Modi and US President Donald Trump agree to work together

जनसत्ता के अनुसार, गांव के लोगों ने बताया कि छह महीने पहले यहां पर बिजली के खंभे लगा दिए गए और तार भी खींच दिए गए। यहां तक कि घरों में मीटर भी लग गए लेकिन बिजली सप्‍लाई शुरू नहीं हुई। हालांकि गांव के कुछ लोगों ने निजी केबल से गांव के बाहर से बिजली कनेक्‍शन ले रखा है। वहीं, बिजली विभाग दावा कर रहा है कि गांव में बिजली सप्‍लाई है।

Also Read:  Aam Aadmi Party is a sinking ship, says Yogendra Yadav

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here